Aunty Ki Gahri Yoni – चाची अपने स्तनों को मसल रही थी नहाते टाइम


Aunty Ki Gahri Yoni

मेरा नाम महेंद्र है और मैं मणिपुर का रहने वाला हूं। मेरी उम्र महज 25 वर्ष है और मैं एक नंबर का मुठेरी हूं। हमारे मोहल्ले में जितनी भी नई नई भाभीयां आती है। मैं सब को देख कर मुठ मारता हूं। उनकी पैंटी को चोरी करता हूं और मैं सबकी पंटी पर मुट्ठ मार देता हूं। Aunty Ki Gahri Yoni

मुझे यह सब करना बहुत ही अच्छा लगता है और मुझे अब आदत सी हो गई है। शायद वह मेरे दिमाग में बैठ गया है। कि मुझे भाभियों की पैंटी पर मुठ मारना ही है। इसलिए मैं सबकी पैंटीयो पर मुठ मारता रहता हूं। इस तरह से कई बार भाभीया अपनी पंटी को छुपाना लग गई हैं। और वह छत पर नहीं सुखाती हैं।

मैंने कई बार इस गलत फैमिली में कई आंटियों की पैंटी पर ही मुट्ठ मार देता। मेरे चाचा जी भी हमारे घर से थोड़ा दूर रहते हैं। इसलिए वह बहुत कम ही हमारे घर पर आ पाते हैं। और उनके पास समय भी नहीं होता है कि वह हमारे घर पर आए और हमें मिल सके। लेकिन जब भी उन्हें समय मिलता है।

तो वह जरूर हमारे घर पर आते हैं और हमें मिलकर जाते हैं। जब भी उन्हें हमारी आवश्यकता होती है। तो वह हमें बता देते कि मुझे आवश्यकता है। तो आप थोड़ा ध्यान दीजिएगा। इस बार भी ऐसा ही हुआ। उनके मोहल्ले में बहुत ही चोरियां होने लगी थी। तो वो काफी डरे हुए थे।

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : माधुरी आंटी की प्यारी सी चूत

अपने घर के सेफ्टी को लेकर हमारे घर आए और मेरे पिताजी से कहने लगे। हमारे मोहल्ले में बड़ी चोरियां हो रही है आजकल और थोड़ा खतरा भी बना हुआ है। पुलिस जांच भी कर रही है। लेकिन अभी तक कोई पकड़ा भी नहीं गया है। मुझे काम के सिलसिले में थोड़ा बाहर जाना है और मेरी बीवी घर पर अकेली है।

तो आप महेंद्र को कुछ दिनों के लिए हमारे घर पर भेज देंगे। तो वह कहने लगे ठीक है। मैं महेंद्र को तुम्हारे घर पर भेज देता हूं। तुम निश्चिंत होकर अपने काम पर जाओ और अपना काम पर ध्यान लगाओ। हमारे चाचा जी हमारे घर से चले गए और वह जैसे ही गए।

वैसे मेरे पिताजी ने मुझे बुला लिया और कहने लगे बेटा तुम्हें तुम्हारे चाचा जी के घर पर जाना है वह कहीं काम से बाहर जा रहे हैं। उनके मोहल्ले में बड़ी चोरियां हो रही है। तो वह थोड़ा डरे हुए हैं। इस वजह से उन्होंने तुम्हें अपने घर पर ही रुकने के लिए कहा है। तो तुम वहां चले जाना।

मैंने कहा ठीक है पिताजी मैं चला जाऊंगा। आप निश्चिंत रहें। मैं अपने चाचा जी के घर चला गया। जैसे ही मैं अपने चाचा के घर गया। तो मैंने वहां देखा तो किसी ने उनकी मोटर ही चोरी कर ली थी। तो उनके घर पर पानी की समस्या हो रखी थी। 

चाची ने मुझे कहा कि तुम बाजार से नई मोटर खरीद कर ले आना। मैं तुम्हें पैसे दे देती हूं। मेरी चाची ने मुझे पैसे दिए और मैं मोटर लेने चला गया। वह कहने लगी पता नहीं कितने दिनो से में ढंग से नहाई भी नहीं हूं। मेरी चाची एक नंबर की माल है।

चुदाई की गरम देसी कहानी : रंडी मम्मी की चुदाई का विडियो वायरल हो गया

उन्हें देखकर हमेशा ही मुट्ठ मार देता हूं और ना जाने मैंने कितनी बार उन्हें देखकर मुठ मारी है। लेकिन वह हमारे घर कम ही आती हैं। इस वजह से मैं उनके नाम की मुठ नहीं मार पाता हूं। अब मैं मोटर लेने के लिए बाजार गया और वहां से मोटर खरीद कर ले आया। उसके बाद मैंने मोटर को लगाया।

तो उनके घर में पानी आने लगा। अब उन्होंने पानी की टंकी भरी और उसके बाद उन्होंने मोटर बंद कर दी। चाची नहाने के लिए बाथरूम में चली गई। मैं यह देख रहा था कि वह कैसी  नहा रही है। उन्हें देखा कि वो एकदम नंगी है और बहुत ही अच्छे से वह नहा रही है।

वह अपने बदन को रगड़ रही थी। तो मैं सब कुछ देख रहा था। जैसे ही वह अपने स्तनों पर हाथ लगाती। तो मेरा एकदम से लंड खड़ा हो गया। और मेरा मन मचलने लगा। उसके बाद मैंने देखा कि वह अपनी चूत में उंगली कर रही हैं। मेरा लंड और ज्यादा खड़ा हो गया।

अब मुझसे रहा नहीं गया। मैंने यह देख कर उनकी पैंटी मे मुट्ठ मार दी। जैसे ही मैंने मुठ मारी तो वह बाहर आई।  उन्होंने मुझे देखा कि मैंने उनकी पैंटी मे मुठ मार दि। मुझे वह पूछने लगी तुमने यह क्या कर दिया। तो मैंने उन्हें बताया कि मुझे ऐसी आदत है।

मैं बिना मुठ मारे रह नहीं सकता हूं। मैंने आप को बाथरूम में नहाते हुए देख लिया। तो मुझसे रहा नहीं गया और मैंने आपकी पैंटी मे मुट्ठ मार दिया। आपके बड़े बड़े स्तन और आपके बड़े बड़े चूतड़ देखी तो मेरा मन विचलित हो गया था। मुझे कहने लगी क्या तुम वाकई में ऐसा करते हो।

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Kachhi Kali Ka Ras Chusa Maine Raat Bhar Sex Story

मैंने अपनी चाची को बताया कि मैंने आपको देखाकर ना जाने कितनी बार अपने लंड की प्यास को बुझाया है। कितनी बार ना जाने आपके नाम की मुठ मारी है। मुझे बहुत अच्छा लगता है। जब मैं आपके चेहरे को सामने देखता हूं और अपने लंड पर हाथ रखकर उसे हिलाता हूं।

यह सुनकर वह बहुत खुश हो गई और मुझे कहने लगी ठीक है तुम एक काम करो अंदर से मेरी नई पैंटी ले आओ। मैं अंदर से उनके लिए नहीं पैंटी ले आया। वह मुझे कहने लगी कि इसे बिस्तर पर रख दो और मेरे सामने आ जाओ।

उन्होंने अपने सारे कपड़े खोल दिए और उन्होंने मुझे कहा कि तुम मुझसे दखकर मुठ मारते हो। मुझे भी दिखाओ। मैंने अपने लंड को बाहर निकाला और अपने हाथ से मुठ मारना शुरू किया। 5 मिनट बाद मेरा वीर्य गिरने वाला था। मैंने सारा वीर्य उनके मुंह में गिरा दिया।

उसके बाद उन्होंने अपने मुंह को पानी से धोया। उसके बाद फिर दोबारा मेरे सामने आई और ऐसे ही लेट गई। वह मुझसे कहने लगी कि आ जाओ बैठ जाओ। दिखाओ कैसे तुम करते हो। मैंने उनकी योनि को चाटा क्योंकि वह अपनी योनि में उंगली डालती थी।

वह मैंने देख लिया था और उनकी झांट के बालों को भी देख लिया था। मैंने अपने लंड को उनके मुंह में डाल दिया और उन्होंने बड़े ही अच्छे से लंड को चूसना शुरू किया। जैसे ही वह चूस रही थी। तो मुझे बड़ा आनंद आ रहा था। उन्होने चूस चूस कर मेरे लंड को इतना गोरा कर दिया था। कि वहां एकदम लाल दिखाई देने लगा था। और टमाटर जैसा हो गया था।

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Barish Me Bheegi Bhabhi Ko Laude Ke Niche Litaya

उसके बाद मैंने अपनी चाची की झांटो वाली चूत मे अपने लंड को डाल दिया और मैंने धक्के मारने शुरू किए। मैं बड़े ही  प्यार से झटके मार रहा था। लेकिन उनकी चूत थोड़ा ढीली लग रही थी मुझे इसलिए मैंने उन्हें कहा कि मुझे आगे से करने मे मजा नहीं आ रहा है। आपको मै घोड़ी बनाकर चोदूंगा। “Aunty Ki Gahri Yoni”

अब मैने उन्हें घोड़ी बना दिया और उनकी चूतड़ों पर प्रहार करने लगा लंड से मैं बड़ी ही तेजी से उनकी चूत मे अपने लंड को डाल रहा था और वह उनकी चूत में अंदर तक घुस जाता। ऐसा करते मुझे बहुत मजा आ रहा था और मैं ऐसा काफी देर से कर रहा था। मुझे उनकी योनि टाइट लग रही थी। मुझे मजा भी आ रहा था।

उनके साथ सेक्स करने में मैं ऐसे ही धक्के मारता जा रहा था। मैंने काफी झटके मारे उनका पूर बदन हिल रहा था। वह बोल रही थी मुझे बहुत ही अच्छा महसूस हो रहा है। जब मैं ऐसा कर रहा था अपनी चाची के साथ मैं सच बोल रहा हूं जब मैं मुठ मारता था तो मुझे ऐसा लगता था कि ना जाने मुझसे कितनी दूर है उनकी गांड़।

आज तो मैंने अपने लंड को उनकी योनि में ही घुसा दिया था। और उन्हें भी बहुत मजा आ रहा था। वह भी जोर जोर से चिल्ला रही थी और कह रही थी तुम्हारा बहुत मोटा  है। मुझे बहुत मजा आ रहा है तुम्हारे साथ करने में यह सुनकर मुझे बहुत खुशी मिल रही थी। मैं ऐसे ही उन्हें पेले जा रहा था।

मुझे काफी आनंद आ रहा था। जब मैं उन्हें चोद रहा था। ऐसा करते-करते काफी देर हो गई। मेरे झड़ने को हो गया और मैंने अपना वीर्य उनकी योनि में ही डाल दिया। उनकी चूत की गर्मी निकल चुकी थी और मेरे लंड की भी गर्मी बाहर आ गई थी। तो वो कहने लगी कि तूने मुझे बहुत अच्छे से चोदा है।

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : Mahila Ne Lund Pakda Mera Train Ki Bheed Me

तो तू अब से मुझे हमेशा ऐसे ही चोदता रहेगा मैंने कहा ठीक है। मैं उनके घर पर एक हफ्ते से रहा। मैने रोज उनके साथ सेक्स किया और एक टाइम भी नहीं छोड़ा। उसके बाद मेरे चाचा आ गए और मैं अपने घर चला गया। फिर बीच-बीच में चक्कर लगा लिया करता हूं। जब मेरा मन होता तो मैं आ जाता। उनके घर पर और उन्हें चोदता हूं।

दोस्तों आपको ये Aunty Ki Gahri Yoni की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………..

Leave a Reply