Bahan Ki Mast Chut – लंड पर राखी बांध कर चुदवाया छोटी बहन ने


Bahan Ki Mast Chut

दोस्तों मेरा नाम राजू है मेरा उम्र 19 वर्ष है मैं बिहार का रहने वाला हूं। यह मेरे और मेरी बहन की एक सच्ची घटना है जो मेरे जीवन में उथल-पुथल ला दिया यह बात कुछ महीने बीते रक्षाबधन (राखी) की है मेरे घर में 4 सदस्य रहते हैं मैं मेरी बहन मेरे पापा मेरी मम्मी। Bahan Ki Mast Chut

मेरी बहन का नाम संजना है और उसका उम्र 18 साल है वह मुझ से 1 वर्ष छोटी है उसका साइज 36- 24-32 है फिगर भी मस्त है रंग गोरा जो भी देखें उसका लण्ड पानी छोड़ दे मेरी मां का साइज भी मस्त है उसका रंग भी गोरा है तभी तो इतनी ज्यादा सुंदर बहन पैदा हुई अब मैं कहानी पर आता हूं.

मैं अपनी बहन को 2 साल पहले से चोदना चाहता था आज वह दिन आ गया रक्षाबंधन के त्यौहार के 3 दिन बचे थे मेरी बहना राखी खरीद लाई मेरी मां और पापा अगले दिन यानी रक्षाबंधन के एक दिन पहले ही नानी घर चले गए जाते वक्त मां ने कहा तुम मेरे कमरे में सो जाना राजू.

दोस्तों मेरे घर में सिर्फ दो ही कमरे हैं एक में मम्मी-पापा और दूसरी में मेरी बहन संजना सोती है मैं बराडे के बेड पर सोता हूं आज मम्मी के रुम में सोया था मुझे नींद नहीं आ रही थी तभी 12:00 बज रहे होंगे रात के मुझे कुछ सिसकारियां आवाज सुनाई दे जो संजना के रूम से आ रही थी.

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : माँ को जर्मनी बुला कर गोरो की रंडी बना दिया

दीवार में एक छोटा सा छेद था मैंने जो देखा उससे तो मेरी होश उड़ गई मेरी बहन नंगी थी उसकी चुत मुझे साफ साफ दिखाई दे रहे थे मैं तो पागल हो गया वह चुत में उंगली डाल रही थी और सिसकारियां ले रही थी मैं उसे देख कर रात भर सो नहीं पाया। मैं सोच रहा था अब सही मौका आ गया है अपनी बहन को चोदने का.

मैं सुबह में नहा धोकर तैयार हुआ मेरी बहन भी खाना बना कर तैयार हो गई मैं उसका चेहरा देख कर रात की बात को लेकर गुस्सा हो रहा था फिर बहन ने मुझे राखी बांधी मैंने उसे उपहार में 1हजार रुपये दीया बहन से बोला मुझे तुझसे कुछ और उपहार चाहिए वो बोली क्या मैं बोला शाम को मैं बताऊंगा।

तो वो बोली में उपहार खरीद तो लूंगी तुम अभी बताओ भैया ।मैं बोला वह तुम्हारे पास ही है फिर हम दोनों ने खाना खाकर सो गए शाम का वक्त हुआ मैं बहना को बोला चलो तुम्हारे कमरे में टीवी देखते हैं हम लोग बातें भी कर रहे थे मैंने एक रोमांटिक मूवी लगाई इसमें किसिंग सीन आ रहा था.

बहन मेरे चेहरे को देखने लगी मुझे भी शर्मा आने लगा उसके बाद मैंने टीवी बंद कर दिया 7:30 का वक्त हो रहा था हम दोनों गप्पे लगाने लग गए मैं हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था और सोच रहा था कैसे बोलूं मुझे तुम को चोदना है.

फिर फिर थोड़ी हिम्मत जुटाई मैं संजना से बोला तुझ से वह गिफ्ट लेना चाहता हूं जो मैंने राखी के वक्त बोला था। प्रॉमिस कर तू देगी वह बोली आप जो मांगेंगे मैं दूंगी प्रॉमिस। मैं बोला पक्का। वह बोली हां मैं हिम्मत जुटाकर बोला मुझे तुम्हारी चुत चाहिए बहन गुस्से से बोली यह क्या कह रहे हैं दोनों भाई बहन हैं। यह नहीं हो सकता।

चुदाई की गरम देसी कहानी : कामवासना में गरम कजिन लंड दबा रही थी मेरा मैंने चोद दिया

मैं बोला तुमने प्रॉमिस किया है बहन बोली तुम कुछ और मांग लो यह नहीं हो सकता हम भाई-बहन हैं मैं देख तू एक लड़की है मैं एक लड़का हूं दोनों एक दूसरे की जरूरत को पूरा करेंगे मैंने रात को तुम तुमको देखा था चुत में उंगली करते यह सुनकर उसके होश उड़ गए उसके तेवर कुछ नरम हो रहे थे मैं बोला तुम्हें लण्ड की जरूरत है और मुझे चुत की।

संजना बोली किसी को पता चल गया तो बहुत बदनामी होगी मैंने उसे समझाया अगर हम यह बात किसी को नहीं कहेंगे तो कैसे पता चलेगा समझाने के बाद वह मान गई मैं उसे मम्मी के कमरे में ले गया मैंने उसे लिटा दिया उसने लाल रंग की टी-शर्ट और काली स्कर्ट पहने थी।

वह आज बहुत सुंदर लग रही थी मैंने उसके टी शर्ट उतारी उसने अंदर उसने काली रंग की ब्रा पहनी हुई थी आज वह कुछ और ही सुंदर लग रही थी फिर मैंने उसका काला स्कर्ट उतारा वह अंदर लाल रंग की चड्डी पहनी हुई थी अब वह मेरे सामने सिर्फ लाल ब्रा और चड्डी में थी चड्डी में थी.

मैं- तुम इतनी अच्छी माल कैसे बन गई छोटी।

संजना- भैया जब मैंने पार्न देखना शुरू किया था.

यह सुनकर मेरा लण्ड खड़ा हो गया मैं- कब से देख रही है तू यह सब.

संजना- 2 सालों से।

मैं- गाली देते हुए कुत्तिया मैं भी तुम्हें 2 सालों से चोदना चाहता था संजना.

यह कहते हुए मैंने अपना होंठ उसके होंठ पर रख दिया और टूट पड़ा जैसे मैं जन्मों का प्यासा था। 10 मिनट तक उसके होठों से चूसे वह भी मेरा पूरा साथ दे रही थी वह मुझे दबोच कर चूमने लगी उसे भी आग लगी थी.

मैं- संजना आज तक तुम किसी से चुदी हो.

संजना- कॉलेज में मुझे बहुत सारे लड़के लाइन मारते हैं और चोदना भी चाहते हैं लेकिन मैं किसी को भाव नहीं देती मेरी चुत अभी कुंवारी हूं.

यह सुनकर मुझे मजा आया और थोड़ा गुस्सा भी आया मैंने उसकी पेंटी गुस्से से फार दी.

संजना- यह क्या किया.

मैं- कोई बात नहीं संजना डार्लिंग दूसरा ला दूंगा.

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Kunwari Padosan Ki Garam Sanso Ne Antarvasna Jagai

उसके कुंवारी चुत पर मुंह लगाकर चाटने लगा 10 मिनट तक चाटता रहा मेरी बहन सिसकारियां ले रही थी आ -हा -हा- हा माई -आ- हा- हा कर रही थी उसकी चुत एकदम साफ और सुंदर थी मैंने उससे 10 मिनट तक चूसा उससे मीठा मीठा रस निकल रहा था मैं मजे से पी रहा था क्या आनंद था।

अब मैं भी अपना सारा कपड़ा उतार नंगा हो गया मेरे लण्ड को देखकर वह डर गई क्योंकि मेरा लैंड 7 इंच लंबा और ढेड इंच मोटा था। उसकी आंखों में मैंने एक अजब सी चमक देखी वह घुटने के बल नीचे बैठकर मेरे लण्ड को हाथ में लेकर अपने मुंह से लगा कर चाटने लगी 10 मिनट तक ऐसा ही चलता रहा. “Bahan Ki Mast Chut”

मैं भी सिसकारियां ले रहा था आहा- आहा -आहा -आहा हूं हूं आह -आह मैं बोला कहां से सीखा है ऐसा चूसना वह बोली मोबाइल से सीखा है मैंने उसे उल्टा होने को कहा और उसकी ब्रा का हुक खोल दिया उसके दोनों निप्पल तरबूज की तरह लग रहे थे.

मैंने झट से मुंह लगा दिया मुझे कुछ फीका फीका लगा मैं बोला इसमें दूध कब तक आएगी बहना वह बोली भैया इसमें दूध बच्चे होने के बाद आते हैं लेकिन तुम चिंता मत करो मैं बच्चे होने के बाद भी तुमसे चदवाती रहूंगी.

मैं ठीक है बहना मैं तुम्हारे जैसी अगर मुझे पत्नी मिल जाए तो मेरा जीवन धन हो जाएगा कितनी मस्त चुत है तेरी यह कह कर मैं उसके निप्पल को चाट रहा था वो सिसकारियां ले रही थी आह आह आह आह आह आह हा हा हा जोर से काटो भैया मजा आ रहा है.

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Barish Me Bheegi Bhabhi Ko Laude Ke Niche Litaya

अब मैं उसकी चुत की तरफ देख रहा था उसकी चुत पर एक तिल था जो उसे और आकर्षक बना रहा था मैं मम्मी के बिस्तर से एक कंडोम निकाला और पहन लिया और उसकी चुत पर थोड़ा सा सरसो का तेल डाल दिया मैं चदाई शुरू ही करने वाला था कि वह बोली रुको भैया.

उसके बाद वह अपने कमरे में गई एक राखी लाई जो मेरे लण्ड पर बांध दी मैं बोला यह क्या है वह बोली आज से यह भी मेरा भाई है तुम इसकी रक्षा करना मैं बोला ठीक है बहना उसके बाद मैंने चुत पर लगाया वह दर्द से छटपटा ने लगी रोने लगी इसे निकालो भैया बहुत बहुत दर्द हो रहा है.

मैं थोड़ा सा रुक गया उसकी चुत के नीचे एक तकिया लगाया हल्का जोर से एक झटका लगाया कि 5 इंच उसकी चुत के अंदर चला गया. वह दर्द से कहराह गई थी रोने लगी उसकी सील टूट चुकी थी मुझे चुत से खून निकल रहा था. “Bahan Ki Mast Chut”

मैं 5 मिनट तक रुका उसके बाद धीरे-धीरे धक्के लगाने लगा हल्के हल्के धक्के खाने के बाद 15 से 20 मिनट बाद उसका दर्द कम हुआ अब मेरा पूरा लण्ड उसके चुत में जा रहा था अब उसे मजा आने लगा था वाह गांड उठा उठा कर चंदवा रही थी और सिसकारियां ले रही थी.

आ आ आ आ आ आ और तेज भैया थोड़ा और तेज मजा आ रहा है मैं भी थोड़ा स्पीड बढ़ाया और उसे लगा जोर से पेलने मैं उसे चोदता रहा वह और तेज भैया और तेज भैया और तेज राजू कुत्ते की तरह चोदता रहा और वह चुदवाती रही चुदाई करते करते आधा घंटा बीत गया.

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : Chachi Ka Lahnga Khol Kar Pela Chaprasi Ne

अब मैं झरने ही वाला था वह अब तक तीन बार झड़ चुकी थी मैं बोला रस कहां निकालू। वह बोली आपना कंडोम निकाल कर मेरे मुंह में डाल दो यह बोल कर वो अपना मुंह आगे लाई मैंने सारा रस उसके मुंह में डाल दिया।

चुदाई का सिलसिला रात तक चलता रहा मैंने उसे उस रात तीन बार चोदा सुबह उठा तो मैं उसे बाथरूम में ले गया और वहां मैंने नहाते नहाते उसको चोदा शाम को मम्मी पापा आ गए और मैं दोनों समान हो गया.

अब जब भी मेरे मम्मी पापा घर से बाहर होते हैं मैं छोटी बहन संजना को चोदता हूं उसकी शादी हो गई है उसके 1 बच्चे हैं वह जब भी मायके आती है मुझसे जरूर चदवाती है हम उसके निप्पल चुचे में दूध आ गया है मुझे पीने में बड़ा आनंद आता है कैसी लगी मेरी रक्षाबंधन की यह चुदाई कमेंट जरूर करिएगा.

दोस्तों आपको ये Bahan Ki Mast Chut की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………..


Leave a Reply