Hawas Ka Khel Kahani – मम्मी को जबरदस्ती फार्महाउस ले गए अंकल

[ad_1]

Hawas Ka Khel Kahani

मेरी मम्मी एक घरेलू औरत हैं और थोड़ी गुस्सैल भी। एकबार बाजार में ही उम्रदराज अंकल एक लड़की को छेड़ रहे थे, मम्मी ने उन्हें मना किया तो अंकल उन्हें गालियां देने लगे। वो उस इलाके में बहुत नामी गुंडे थे। मम्मी को भी गुस्सा आ गया उन्होंने बात ही बात में एक थप्पड़ जड़ दिया। Hawas Ka Khel Kahani

चूंकि भीड़ थी, इसलिए अंकल गुस्से में रह गये लेकिन उन्होंने वहां ये कहा कि जिस दिन मादरचोद मिली अकेले तेरी सारी गर्मी निकालूंगा। सबने मम्मी से कहा कि उससे दूर रहें, कई औरतों को उसने बर्बाद कर दिया है, लेकिन मम्मी को उससे कोई डर नहीं लगता था।

मेरी मम्मी बहुत सुंदर हैं और शरीर से भरी हुई। एक दिन शाम का समय था मम्मी किसी काम से बाहर निकलीं और रात हो गई, मम्मी घर आ रही थीं। वहीं घात लगाये अंकल बैठे थे, रास्ता सुनसान था और उस ओर बहुत बड़ी बड़ी झाड़ी थीं और बगल में अंकल का फार्म हाउस।

अंकल ने मम्मी को पीछे से पकड़ कर झाड़ी के अंदर घसीट लिया। मम्मी पहले समझ नहीं पाईं, अंकल उनके मुंह को हाथ से दबाया और उठाकर अपने फार्म हाउस के कमरे में ले गये और दरवाजा बंद कर दिया। मम्मी अंकल को देख उनसे लड़ पड़ीं और कहा ये क्या बदतमीजी है।

अंकल बोले बदतमीजी मेरी जान अभी तुम मेरी बालों वाली जांघ पर नंगी बैठोगी। मम्मी बाहर जाने को मुड़ गई लेकिन दरवाजे पर ताला अंकल ने मारी दिया। मम्मी दरवाजे पर लात मारनें लगीं। अंकल पीछे से गये और उनके ब्लाउज में हाथ डालकर उनकी चूची दबाने लगे।

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : भाभी ने मेरे लंड पर साबुन लगाया

मम्मी छूटने की कोशिश करने लगीं। मम्मी कसमसाने लगीं। उसने साड़ी मम्मी की निकाल दी और मम्मी के पेटीकोट और अधखुले ब्लाउज में थीं, उसने एक हाथ से मम्मी को पकड़ कर दूसरे से अपने कपड़े उतारे और एकदम नंगा हो गया।

मम्मी उसका विशालकाय गंदा बालों से भरा शरीर और गंधाते पसीने से उबाकाई लेने की कोशिश की इतनें में उसने मम्मी के गाल पकड़ कर उनके नाजुक होंठों को चूसने लगा। लगभग बीस मिनट तक उनके होंठों को चूसने के बाद जब मम्मी के ब्लाउज पकड़ कर फाड़ कर फेंक दिया और पेटीकोट भी निकाल कर एकदम नंगी कर दिया।

मम्मी को अपने सीने से लगा लिया और मम्मी उसकी छाती के बाल नोचने लगीं। तुरंत दीवाल के सहारे मम्मी को बिठाकर उनका मुंह चोदने लगा। बोला चूस मेरी रंडी बहुत रसीले तेरे होंठ हैं, जवानी है साली मादरचोद कुतिया आह मुझे पता होता कि तेरा इतना मदमस्त जिस्म है, तो वहीं मार्केट में ही पकड़ कर चोद डालता।

मम्मी गगगगगगगगग कर रही थी और वो जोर जोर से मुंह चोद रहा था, बोल रहा था चूस मादरचोद, चूस आह मेरी रंडी आआआआह तेरे लब तेरी जीभ आआआह..। कितनी औरतों को अंकल ने चोदा था, पर मम्मी का स्पर्श पता नहीं क्यों उन्हें और वहशी बना रहा था।

चुदाई की गरम देसी कहानी : कामुकता से भरा मधुर मिलन

मम्मी की नाज़ुक, मुलायम जवानी अंकल के बर्दाश्त के बाहर हो रही थी, उनके लब का स्पर्श अंकल की झांटों तक को हो रहा था और अंकल वासना में और जोर जोर से उनका मुंह चोद रहे थे, अंकल एकदम झड़ने की अवस्था में आ गये और लगभग दो मिनट तक मम्मी के मुंह में ही आह आह आह करते कई धार मार कर शांत होकर दीवार से चिपक गये।

मम्मी के मुंह में उनका वीर्य भरा लंड और उनके मुंह पर अंकल की झांट फैलीं थीं। मम्मी नें किसी तरह अंकल के चूतड़ों पर हाथ रख कर अपने मुंह से अंकल का लंड निकाला और खांसते हुए वीर्य की उल्टी की। अंकल मम्मी का मुंह चोद चुके थे।

पानी लाकर उन्हें कुल्ला करवाये और मम्मी से बोले देख तूने मुझे बेइज्जत किया और मैंने तुम्हें यहीं बात खत्म। पर आज तक किसी औरत नें इतनी जल्दी मुझे नहीं निचोड़ लिया। तू नंगी है और यहां तेरे साथ जो चाहूं कर सकता हूं और ये तेरी गांड़ मारते मारते भरता बना डालूंगा, ये तेरी चूचियां काट काट कर खाऊंगा और तेरे होंठ आह सारी रात नंगी मेरे आगोश में छटपटायेगी।

इससे बेहतर मुझे प्यार दे और बदले में मैं तुम्हें उतनें ही प्यार से अपने लंड का सुख दूंगा। तू बहुत मस्त माल है मेरी जान। तेरी हां है तो चल मेरा लंड सहला और खड़ा कर। मम्मी के पास कोई चारा नहीं था।

मम्मी उसका लंड सहलाने लगीं और उसने मम्मी को अपनी गोद में बिठा कर उनकी बगलों को चाटना शुरू कर दिया। बोला इस पसीनें में भी कितनी मादकता है। मम्मी उसका लंड सहला रही थीं। उसने मम्मी को खड़ा किया और कहा कि चल मुझे प्यार कर और खेल मुझसे।

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Sexy Teacher Ka Sex MMS Bana Kar Chod Liya Maine

मम्मी अंकल की छातियों के निप्पल चूसने लगीं और उनके मुंह तक आईं और उन्हें किस करनें लगीं, अपनी छातियों में उनका सर दबानें लगीं और अब मम्मी को भी मज़ा आने लगा था, इसलिए सचमुच मम्मी उन्हें चोदने के लिए उत्तेजित कर रही थीं।

अंकल भी मम्मी को अपनी गोद में बिठा कर उन्हें प्यार करनें लगे और मम्मी के मुंह पर अपना लंड रख खुद उनकी बुर चाटने लगे। मम्मी की मोटी पावरोटी जैसी फूली चूत अंकल जी भर कर चूस रहे थे, तभी मम्मी का पानी निकल गया और अंकल पी गये। अंकल बोले तूने शांत होने पर गर्म किया था अब मैं तुम्हें गर्म करूंगा।

अंकल ने मम्मी को लिटाया और फिर उनकी बुर चाटने लगे, मम्मी एकदम सुस्त पड़ गई थीं। धीरे धीरे मम्मी की जांघों को अंकल चाटने लगे औफिर उनकी गहरी नाभि पर अंकल ने अपनीं जीभ फिराई। मेरी इतनी सिंह मम्मी एक वहशी मर्द के बिस्तर पर और उन्हें नंगी करके उनके जिस्म से खेल रहा था।

मम्मी मुझे दूध भी पिलाती हैं, तो निप्पल को काटने पर चिल्ला उठती हैं और ये वहशी जोर जोर से दोनों हाथों से उनकी छतियां मींज रहा है, मसल रहा है, मम्मी आह आह कर रही थीं। अंकल की ये प्लानिंग थी तो मम्मी का बलात्कार करने की मगर उन्हें डर भी था कि अगर मम्मी ने किसी को कह दिया तो उन्हें दिक्कत हो सकती है। “Hawas Ka Khel Kahani”

इसलिए अंकल नें मम्मी को ऐसा करने के लिए धमकाया, जितने हिस्से में मम्मी ने अंकल को चूमा, सहलाया था वो हिस्सा मम्मी को बिना बताए रिकार्ड कर लिया था। और अब अंकल मम्मी के साथ कुछ भी कर सकते थे।

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Neetu Ka Pahla Period Aane Par Chut Ka Checkup Kiya

अंकल नें मम्मी की चूत के अंदर अपने लंड का सुपाड़ा घुसेड़ दिया और उनके बगलों में हाथ डालकर उनकए हाथों को पकड़ लिया, जांघें मम्मी की अंकल की जांघों में दबीं थीं, लंड का सुपाड़ा मम्मी की चूत के अंदर था, मम्मी की गर्म गर्म सांसें चल रहीं थीं अंकल और मम्मी एकदम को देख रहे थे।

अंकल ने मम्मी को कहा किसी करने को अंकल और मम्मी एक दूसरे के होंठों को चूसने लगे। अंकल ने मम्मी की जीभ अपने दांतों से दबा ली और मम्मी की जीभ चूसने लगे, इतना जोरदार झटका मारा कि अंकल का पूरा लंड एकबार में ही मम्मी की चूत में उतर गया, मम्मी छटपटाने लगीं मगर अंकल उनका पूरा जिस्म दबोचे हुए थे.

मम्मी की आंखों से आंसू बहने लगे और अंकल अपनी हवस में मम्मी को अंधाधुंध चोद रहे थे। अंकल ने मम्मी के हाथ को छोड़ कर उनकी चूचियों को मसलना शुरू किया और उन्हें किस करना भी छोड़ दिया। मम्मी बोली आपने कहा था आराम से करेंगे।

अंकल मम्मी को और मसलनें लगे। मम्मी अंकल की छातियों पर हाथ से पकड़ कर बाल नोचने लगीं। अंकल उन्हें चोदते जा रहे थे, इतना वहशीपन में मम्मी की चुदाई हो रही थीं मम्मी एक बारगी तड़प कर स्खलित हो गईं। अंकल मम्मी छोड़ दिया ढ़ीला तो मम्मी का पानी बह गया।

अंकल मम्मी को उठाये और अब अंकल नहीं थे, मम्मी ऊपर। अंकल मम्मी को बोले चल सवारी कर। मम्मी एकदम अंकल की छाती पर भोथरा गईं, अंकल दुबारा मम्मी को उठाकर वहीं करने को बोले मम्मी फिर एकदम से इनपर निढाल हो गईं।

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : Mujhe Nangi Dekh Chacha Ka Janwar Jag Gaya

अंकल मम्मी को लेकर बैठ गये और मम्मी को चार पांच तमाचे लगाकर बोले साली रांड जब इतनी गर्मी नहीं झेल पायी तो उछलती काहे है। अभी तो तुझे सही से मैने चोदा भी नहीं है और अंकल फिर से उनके होंठों को चूसने और उनके दूध मसलने लगे।

मम्मी कसमसाने लगीं मगर इतना होश नहीं था कि अब अंकल से मर्दानगी से लोहा ले पायें। अंकल मम्मी को अपने ऊपर लिटा कर उनके चूतड़ों को अपने लंड पर बिठा कर ऊपर नीचे करने लगे। अंकल समझ गये कि मम्मी को होश नहीं है, तो पास की रजाई को खींचा और मम्मी को अंदर रजाई के चोदते रहे और उनके अंदर ही अपना वीर्यपात कर दिया।

दोस्तों आपको ये Hawas Ka Khel Kahani मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे……………….

[ad_2]

Leave a Reply