Hospital Me Chudai Kahani – कुंवारी नर्स ने फ़ोन नंबर दिया अपना

[ad_1]

Hospital Me Chudai Kahani

हेलो दोस्तों मे राज बदला हुआ नाम ! crazy sex story मे अपनी पहली कहानी लेकर हाजिर हूँ ! दोस्तों मे पहले अपने बारे मे बता दूँ मेरी हाइट 5.5 इंच हे मेरे लण्ड का साइज 6 इंच हे मे दिखने मे सीधा साधा हूँ पर बहुत हरामी हूँ ! तो चलिए दोस्तों ज्यादा समय ना लेते हुए आप को अपनी कहानी पर ले चलता हूँ. Hospital Me Chudai Kahani

बात उन दिनों कि हे जब मे अपनी हि मौसी को लेकर हॉस्पिटल मे था मौसी का ऑपरेशन हुआ था तो उनके साथ 15 दिन वहीं पर रुका मुझे नहीं पता था कि मेरे साथ यहाँ क्या होने बाला हे हॉस्पिटल मे 2 दिन हि गुज़रे होंगे कि मेरी नज़र एक नर्स पर गई क्या माल थी यार देखते हि लण्ड खड़ा हो जाए.

उसकी उम्र करीबन 22 होगी पहले उसकी ड्यूटी जनरल वार्ड थी फिर दो दिन बाद बो उसी रूम मे आ गई जिस रूम मे मेरी मौसी थी यार उस नर्स को देख कर तो मन कर रहा था कि साली को अभी चोद दूँ पर अपने आप को रोक लिया फिर पूरा दिन उसे ही देखता रहा और मन मे उसे चोदने का सोचता रहा.

उसने भी मुझे दो तीन बार जज किया कि मे उसे ही देख रहा हूँ पता हि नहीं चला कि कब दिन निकल गया और बो कब रूम चली गई मे रात कि दबाई लेने नीचे चला गया करीब आधे घंटे बाद वापिस आया देखा तो बो नर्स नहीं थी फिर मैंने दवाई वहीं पलंग के पास टेबिल पर रखी तो मेरी नज़र एक कागज पर गई जिस पर एक नंबर लिखा था और ये भी लिखा था कि कॉल कर लेना 10 बजे के बाद.

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : चूची और चूत का फोटो भेजती भाभी मुझे

पहले तो सोचा कि किस का हे पर फिर भी मे 10 बजने का इंतजार करने लगा फिर दोस्तों बो समय आ गया जब मैंने उस नंबर पर कॉल किया फोन किसी लड़की ने उठाया मैंने उससे पूछा कौन तो उसने मुझे बताया कि आप जिस को सुबह से देख रहे थे वहीं हूँ फिर क्या दोस्तों बन गया काम हम दोनों ने रात भर बात कि.

उसने अपना नाम काजल बताया हॉस्पिटल से कुछ आधा किलोमीटर दूर किराये से रहती हे मम्मी पापा उसके गाओ मे रहते हे बो अकेली ही रहती हे बात करते करते सुबह के 4 बज गए फिर मैंने उससे कहा कि ठीक हे सो जाते हे अब आप को आना भी तो हे सुबह तो उसने भी हाँ कहा और फोन रखें से पहले l love you बोल कर फोन काट दिया.

फिर अगली सुबह बो आई मुझे हाय बोली बोली और अपने काम पर लग गई मे भी वहीं अपने चाचा जी के घर चला गया शाम को वापिस आया तब तक बो नर्स जा चुकी थी मे खाना खा कर आया था रात 8 बजे उसका कॉल आया बात शुरू हुई हम दोनों कि फिर तक़रीबन 2 घंटे बाद बो बोली कि मेरे रूम आ जाओ.

फिर क्या था दोस्तों मे चल दिया बो मुझे बोलती गई मे उसके बताए हुए रास्ते से उसके रूम पर पहुँच गया वो नीचे हि रहती थी ऊपर माकन मालिक रहता था जैसे हि मे गेट पर पंहुचा तो उसने गेट खोल दिया और मुझ से अंदर आने को बोला मे अंदर गया फिर गेट बंद कर के हम दोनों एक दूसरे को गले लगाया मे लोअर और टी-शर्ट मे था जैसे बो भी लोअर टी शर्ट मे थी.

चुदाई की गरम देसी कहानी : Ganv Wali Bhabhi Ne Sex Ka Poora Maja Diya

जैसे हि मे गले लगा तो मेरे लोअर मे मेरे लण्ड ने तम्बू बना लिया बस क्या था दोस्तों गले लगते हि हम दोनों एक दूसरे को किस करने लग गए करीब 10 मिनिट तक किस किये और वहीं पास मे बिस्तर पर चलें गए थोड़ी देर बात कर के बस लग गए अपने काम पर मे किस करने लगा और बो मेरा साथ दे रही थी.

मैंने उसे कपड़े के ऊपर से ही पूरे शरीर पर किस किया वो पूरी गरमा चुकी थी फिर हम दोनों एक दूसरे के कपड़े उतारे फिर से मैंने किस करना शुरू कर दिया पहले होठो पर फिर मैंने उसके बूब्स को पीने लगा उसके इतने कडक थे और इतने बड़े कि मेरे हाथो मे नहीं बन रहे थे फिर मैंने उसकी चूत को चाटना शुरु किया.

क्या मस्त खुसबू थी यार उसकी चूत इतनी साफ कि मनो उसने मेरे लिए ही साफ कि हो इतना मज़ा तो मैंने पहले कभी नहीं लिया फिर मैंने अपनी उंगली से उसकी चूत चोदना चालू कर दिया 10 मिनिट तक ऊँगली करने के बाद बो झड़ गई फिर उसने मेरे लण्ड को अपने मुँह मे लिया और चूसने लगी ये चूस रही थी मनो पहले कभी इतना मोटा लण्ड कभी देखा हि नहीं.

उसने मेरे लण्ड और आंड को चूसा मे भी बड़े मज़े मे अपना लण्ड चूसबा रहा था और मन हि मन सोच रहा था क्या बात हे बगैर मेहनत के सुख मिल रहा हे फिर मैंने उसे बिस्तर पर लिटाया और अपना लण्ड उसकी चूत पर अपना लण्ड रख कर उसके ऊपर ऊपर ही घूमा रहा था और उसके बूब्स को किस कर रहा था.

अब बस उसके मुँह से इतना सुनने के लिया रुका था कि बो कब बोले कि मुझे चोदो इतने मे बो बोल पड़ी कि राज क्यूँ तडपा रहे हो डाल दो अपना लण्ड मेरी प्यासी चूत मे फिर मैंने देर नहीं कि अपना लण्ड चूत के छेद पर रखा और एक झटके मे आधा लण्ड डाल दिया उसके मुँह से जोर से आबाज निकल गई हाय मर गई.

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : मेरी बुर की झांट साफ किया सहेली ने

फिर मे थोड़ी देर रुका और दर्द कम होते पूरा लण्ड घुसा दिया इस बार उसकी आबाज नहीं निकल पाई क्योकि मैंने अपने होठो से उसके होंठ दबा रखे थे फिर भी उसे बहुत तेज दर्द हुआ उसकी आबाज मेरे हि मुँह मे समां गई मे फिर रुका दर्द कम हुआ तो बो धीरे धीरे ऊपर नीचे होने लगी और मेरा चुदाई मे साथ देने लगी. “Hospital Me Chudai Kahani”

उसके मुँह से अबाज आने लगी ऊम्म्म्म…….अह्ह्ह्ह्ह्……..चोदो राज मुझे मे कितने दिनों से ऐसे मोटे लण्ड कि भूखी हूँ अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह………… चोदो मर गई मम्मी आज तो राज आराम से दर्द हो रहा हे मेरे हर एक धक्के पर उसकी आबाज निकल रही थी कुछ 15 मिनिट बाद बो झड़ गई पर मे फिर भी उसे चोदता रहा.

पूरे कमरे मे अब सिर्फ फच्च फच्च और उसके उम्म्म्म्म……….. अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह ………. के अलाबा और कुछ नहीं सुनाई दे रहा था थोड़ी देर बाद मे झड़ने बाला था तो उसने मुझे जोर का धक्का दिया और बोली पागल हो क्या प्रेग्नेंट करोगे क्या फिर मैंने अपना बीज बिस्तर पर ही छोड़ दिया !

थोड़ी देर रुकने के बाद हम दोनों फिर से सेक्स करने के लिए तैयार थे इस बार मैंने उसे गांड चोदने को कहा तो उसने मना कर दिया मेरे समझने पर मान गई फिर मैंने उसे घोडी बनने को कहा बो बन गई मैंने पीछे से उसकी गांड पर लण्ड रख कर धीरे से धक्का दिया तो लण्ड अंदर चला गया.

फिर भी उसे दर्द हुआ तो बो अपने आप को मुझ से छूडाने लगी मे रुक गया फिर बो बोली राज लण्ड निकालो बहुत दर्द हो रहा हे उसके मना करने पर भी मेने लण्ड नहीं निकाला फिर दर्द कम होते ही मैंने एक झटके मे पूरा लण्ड उसकी गांड मे डाल दिया पर इस बार मैंने उसका मुँह आपने हाथो से दबा कर रखा था.

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Lund Ki Pyasi Didi Ne Plumber Ka Land Nahi Chhoda

तो उसकी आबाज निकल नहीं पाई दर्द कम होने के बाद बो खुद आगे पीछे हनी लगी मे भी धीरे धीरे उसकी गांड चोदने लगा उसके मुझ से आबाज भी निकल रही थी मेरी गांड फाड़ दो राज आज मैंने पहली बार अपनी गांड चूदबाइ हे अह्ह्ह्ह्ह्ह……. उम्म्म्म……. उम्म्म्म्म…… अह्ह्ह्ह्ह……. चोदो मुझे राज चोदो. “Hospital Me Chudai Kahani”

फिर कुछ देर बाद मैंने उसकी गांड से लण्ड निकल कर उसी पॉजिशन मे मैंने लण्ड छूट मे डाल दिया और फिर उसे चोदने लगा उस रात मैंने उसे तीन बार चोदा फिर सुबह सुबह मे उसके रूम पर से हॉस्पिटल आ गया फिर अगले 10 दिन मे हॉस्पिटल मे रुका रहा मे रोज रात को उसके रूम पर जाता था और हम दोनों अलग अलग तरीको से सेक्स करते फिर 10 दिन बाद मौसी को डिस्चार्ज कर दिया मे आपने घर आ गया अब जब भी मे उस शहर जाता हूँ तो मे उसी के रूम पर रुकता हूँ और हम दो सेक्स करते हे ! तो दोस्तों कैसी लगी मेरी कहानी मेल कर के जरूर बताना.

दोस्तों आपको ये Hospital Me Chudai Kahani मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………..

[ad_2]

Leave a Reply