Indian Bhabhi Honeymoon Sex – पति से नाखुश औरत का तड़पता जिस्म

[ad_1]

Indian Bhabhi Honeymoon Sex

मेरा नाम अंजना है मैं 24 साल की हु, मेरी शादी पिछले साल ही हुई है, मैं करनाल की रहने बाली हु, दिल्ली में रहती हु, मेरे पति एक कंपनी में मेनेजर है, मैं घूमने फिरने, डांस करने में बहूत मजा आता है, पर जब से मेरी शादी हुई मैं बोर हो चुकी हु, शादी के पहले मेरा कई लड़को के साथ दोस्ती थी पर वो दोस्ती सिर्फ किस और चूचियों को दबाने तक ही सिमित था. Indian Bhabhi Honeymoon Sex

शादी के पहले कभी सेक्स नहीं किया था, बस ऊपर ऊपर से ही मजे लिए. मेरा शरीर भरा पूरा है, मैं 34 C साइज की ब्रा पहनती हु, मैं अक्सर जीन्स और टॉप में होती हु, मेरे होठ गुलाबी है, और गाल गोर गोर है, मेरी गांड थोड़ा पीछे की तरफ उभार है, जब मैं चलती हु तो लोग मेरे आगे से मेरी चूचियों को निहारते है क्यों की मेरी चूचियां आगे की और नुकीली सी निकली है. और बहूत ही हॉट है.

और जब मैंने गुजर जाती हम तो लोग पीछे से मेरी गांड को निहारते नहीं थकते है. अब तो आपको समझ आ गया होगा की मैं कैसी हॉट और सेक्सी जवानी से भरपूर औरत हु, औरत तो नहीं लड़की कह सकते है, क्यों की अभी तक तो ठीक से मेरी चुदाई भी नहीं हो पाई थी. मैं अब सीधे अपनी सेक्सी कहानी पे आती हु,

मेरा पति जिनका नाम है अनुपम, वो मुझे खुश नहीं रख पा रहे है. क्यों की वो मेरे से ज्यादा अपने काम को ही प्रायोरिटी देते है. उनको काम प्यारा है. वो अपने काम से ही ज्यादा बीजी रहते है. वो मेरे ऊपर ध्यान नहीं देते. मुझे चुदवाने का बहूत ही ज्यादा मन करता है. पर वो देर रात आते है और फिर अपना बोतल लेके बैठ जाते है. और फिर सोने चले जाते है.

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी :Hospital Mein Sex Kiya Bua Ke Sath

आज तक वो जितनी बार मुझे चोदे है मुझे खुश नहीं कर पाए है. जब मैं उनको कस के पकड़ कर उनका लंड अपने चूत में डलवाने लगती हु, तभी वो झड़ जाते है. यानी की डिस्चार्ज हो जाते है. मैं अभी जोश में ही आती हु और वो निचे उत्तर कर सो जाता है आप भी बताओ दोस्तों मेरी ज़िन्दगी कैसी होगी.

जिसकी चूत लंड के लिए तड़प रहा हो और लंड आते ही लंड सो जाए तो उस चूत का क्या हाल होगा. मेरी कहानी यही से शुरू होती है. क्यों की मैं अपना मुह इधर उधर मारने की कोशिश करने लगी. मेरे फ्लोर पे ही एक भैया रहते है. उनकी भी शादी हो गई है. वो पार्ट टाइम काम मुझे देते है.

मैं अपने घर पर आके उनका काम करती हु और दिन में एक से दो घंटे जाके उनसे सहारा काम समझ लेती हु, धीरे धीरे उनकी सेक्सी अदाएं मुझे उनकी और आकर्षित करने लगी. मुझे वो अच्छे लगने लगे. फिर मैंने उनके पास जाती, और उनसे काफी सारे बाते करती, और मैं कोशिश करती की वो मेरी जिस्म को देखे इसलिए मैं हमेशा वैसे टॉप को पहनती जिसका गला बड़ा हो.

ताकि चूचियां बड़ी बड़ी साफ़ साफ़ दिखे, मेरा निशाना सही जगह पर लगा. पर हमेशा भी नहीं कर सकती, क्यों की उनकी भी नई नई ही शादी हुई थी. उनकी भी वाइफ साथ रहती थी. दोस्तों कुछ ही दिन में वो मेरे से काफी ज्यादा खुल गए. वो तो अब मेरे से कभी कभी नॉनवेज डिस्कशन भी करते थे. मुझे भी अच्छा लगता था.

उनकी बातों में जादू था. उनकी बात और उनके पास ही बैठ कर मेरी चूचियां टाइट हो जाती थी और चूत हलकी हलकी गीली हो जाती थी. एक दिन की बात है. भैया बोले की आपको भाभी जी, गाँव जा रही है आज उनकी माँ की तबियत ख़राब है. आज शाम को ४ बजे नई दिल्ली से राजधानी ट्रैन है मैं चढ़ा कर आऊंगा.

चुदाई की गरम देसी कहानी :चुदाई देख कर गई गरम हुई गर्लफ्रेंड

भाभी बोली तब तक आप इधर भी ध्यान देना, मैंने कहा ठीक है भाभी अगर मैं दो की रोटी बनाउंगी तो भैया के लिए भी दो रोटियां सेक दूंगी. और उस दिन भाभी चली गई. भैया लेट आये, मैंने फ़ोन किया की रोटी बनाया दू तो वो बोले आज मैं अपने दोस्त के यहाँ ही रुकुंगा, आज आ भी नहीं पाउँगा.

तभी बेल्ल बजी मेरे पति देव आ गए, आते ही जूता उतारते हुए बोले, की कल सुबह मैं बंगलुरु जा रहा हु, ऑफिस के काम से चार दिन बाद आऊंगा, कंपनी बाले ने हवाई टिकेट भी बना दिया है. जाने आने का, तो वो फिर मुझे पांच हजार रूपये दिए और बोले की ठीक से रहना. दूसरे दिन वो चले गए.

अब मेरे घर में मैं अकेली थी और भैया के घर में सिर्फ भैया, पता नहीं मेरा दिल क्यों कह रहा था की आज मैं चुदुंगी, मैं दूसरे दिन संडे था तो मैं उनके घर दिन के ग्यारह बजे ही चली गई. वो नहा कर निकले थे. वो सिर्फ तौलिया में थे. जब मैंने उनके मजबूत बदन को देखा तो मैं दीवानी थी गई. क्या सिक्स पैक था.

मुझे तो ऐसा लग रहा था की मैं उनके बदन से लिपट जाऊं और अपनी चूचियां को निकाल कर, उनके सीने से रगड़ दू. मैं अपने आप को संभाल कर, सोफे पे बैठी रही, वो मुझे भाभी कहते है. तो वो बोले और क्या हाल है भाभी तो मैं बोली कैसा रहेगा? पति के वियोग में. भले पति मुझे कुछ नहीं कर पता हो पर ये सब तो आपको पता है बोलना पड़ता है.

फिर मैंने भी पूछा और आपका? तो वो बोले की पत्नी के वियोग में क्या होगा? फिर हम दोनों हँसने लगे. तभी मैं बोल उठी की चलो आज समझ लो मैं आपकी बीवी हु और आप मेरे पति. भैया बोले, सिर्फ बोलने से नहीं होता है भाभी पति पत्नी का रिश्ता तो आपको पता है किससे होता है. मैं बोली कोई बात है. जैसा भी होता हो.

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी :Bahan Ne Chut Par Tel Laga Kar Bulaya Chodne Ko

लाइफ में चेंजेज तो चाहिए इससे ज़िन्दगी खूबसूरत बन जाती है. उसके बाद बात आगे बढ़ गई. वो बोले तो ठीक है आज आप मेरे यहाँ ही रहो पत्नी बनकर, मैं भी बिना देर किये बोल दी ठीक है. भैया बोले अभी कहना मंगवाता हु. उन्होंने कहना मंगवाया बाहर से, हम दोनों मिलकर खाये. तभी भैया बोले और अब. मेरे भी वेशर्म होकर बोल दी अब हनीमून.

तभी उन्होंने मेरे कंधे पर हाथ रख दिया और मैं सिहर गई. और वो मेरे करीब आ गए वो मेरी आँख में झाँक रहे थे और मैं उनकी आँख में, और फिर दोनों के होठ एक दूसरे के होठ से जा मिले और फिर उन्होंने मेरे बाल को खोल दिया., और मुझे अपने सीने से चिपका लिए.

मेरी चूचियां दबाव के कारण आधी निकल गई थी .. वो पहले मेरे चूचियों को ऊपर से ही किश करने लगे. मैंने भी उनके बाल को सहलाते हुए उनके होठ को चूस रही थी. दोनों की वासना धधक रही थी. वो मुझे गोदी में उठाकर अपने बैडरूम में ले गए और मेरे सारे कपडे उतार कर, वो मेरी दोनों टांगो को फैला कर, मेरे चूत को चाटने लगे. “Indian Bhabhi Honeymoon Sex”

मैं पानी पानी हो गई. वो बोले गजब! मजा आ गया, क्या खुशबु है अपनी चूत की! ओह्ह्ह्ह आज मैं पहली बार चूत को चाट रहा हु. मेरी बीवी चूत नहीं चटवाती है. और मैं चूत का दीवाना हु. मैंने कहा अब तो जब तक वो दोनों नहीं आते आप मेरी चूत को खूब चाटो, मुझे चूत चटवाना बहूत ही ज्यादा अच्छा लगता है. और मेरी चूत से पानी निकलने लगा.

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज :छत पर स्तन दबा कर चुदाई की शुरुआत हुई

और वो सारे पानी को अपने जीभ से साफ़ कर रहे थे. दोस्तों मुझे पहली बार इतना आनंद आ रहा था. मैं खूब मस्त थी. फिर वो ऊपर जाके, मेरे बूब्स को दाबने लगे और मेरे होठ को चूसने लगे. उन्होंने मेरे गर्दन पर एक लव बाईट दे दी. वो काफी जोश में आ गए. मैंने कहा मुझे अब मत तड़पाओ. आज तक मेरा पति मुझे तड़पाते ही आया है. आज तक मैं कभी भी अपने पति से खुश नहीं हो पाई. आज मुझे खुश कर दो,

भैया बोले मुझे गांड ही मारने देना. मेरी वाइफ गांड मारने नहीं देती है. मैंने कहा मेरे जिस्म में जहा जहा भी छेद है आप अपने लंड को घुसा सकते हो. और वो अपना मोटा लंड निकाल कर पहले तो वो मेरे बूब्स के बिच में डाल कर, दोनों चूचियों को आपस में सटा कर, घुसाने लगे.

और फिर निचे होकर, अपना मोटा लंड का सूपड़ा मेरे चूत के ऊपर सेट किया, और फिर मेरे पैरों को ऊपर किया और जोर से घुसा दी. मेरी चीख निकल गई. लगा की आज ज़िन्दगी में पहली बार चूत के अंदर लंड गया. दोस्तों उनका लंड मेरे चूत के बिलकुल अंदर तक चला गया था.

मुझे थोड़ा दर्द होने लगा क्यों की मेरे पति का लंड इससे आधी है. तो आप समझ सकते हो मेरा क्या हाल हुआ होगा. फिर वो मेरे बूब्स को प्रेस करने लगे मेरे होठ को चूसने लगे. और मेरी चूत में लंड को अंदर बाहर जोर जोर से करने लगे. मैंने भी उनके चुदाई में साथ देने लगी. “Indian Bhabhi Honeymoon Sex”

करीब दस मिनट तक वैसे चोदने के बाद उन्होंने मुझे डॉगी स्टाइल में कर के पीछे से लंड को मेरे चूत में घुसाने लगे. और हरेक दस सेकंड में मेरे चूतड़ पर मारते, और लंड को जोर जोर से घुसा देते . मैं आह आह आह कर रही थी. मुझे काफी ज्यादा मजा आ रहा था. मैं भी धक्के पे धक्के दे रही थी.

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी :Jiju Subah Se Lund Khada Karke Ghum Rahe The

फिर वो निचे लेट गए और मैं उनके ऊपर आ गई, मैं उछाल उछाल कर चुदवाने लगी. फिर लैपटॉप चुदाई, यानी को वो बैठ गए और मैं उनके गोद में बैठ गई. और उन्होंने फिर मेरे चूत में लंड घुसा रहे थे. आपको सच बता रही हु. मुझे पहली बार एहसास हुआ की सेक्स इतनी अच्छी होती है. बस आपको सिर्फ चोदने बाला हो.

फिर क्या था दोस्तों चार दिन तक मैं उनके घर ही रही, आपको पता है दिल्ली में फ्लैटों में कौन आ रहा है कौन जा रहा, इससे किसी को क्या मतलब, खूब चुदे चार दिन तक. मजा आ गया ज़िन्दगी. का अब तो जब मौक़ा मिलता है, तब चुद लेती हु. पर वो मुझे किश और मेरे चूचियों को दबाते रोज है. 

दोस्तों आपको ये Indian Bhabhi Honeymoon Sex की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे……………..

[ad_2]

Leave a Reply