Kamsutra Sex Position – अलग अलग पोजीशन में चोदा मंगेतर को


Kamsutra Sex Position

दोस्तों में अपनी नई कहानी सुहागरात के दिन प्यार की बीवी को चोदा लेकर हाजिर हूं. बात उन दिनों की है जब मैं अपनी शादी के लिये लडकी देखने गया था, लड़की सबको पसंद आ गई और मेरी सगाई भी हो गई. लेकिन जब से मैंने अपनी होने वाली better half Ko Dekha Tha तब से मेरी रातों की नींद उड़ गई थी. Kamsutra Sex Position

मै दिन रात उसकी चुदाई की सोचता था रोज उसके नाम की मुठय मारता था. एक हफ्ता बाद में घर में बहाना करके अपनी ससुराल जा पहुंचा. ससुराल में मेरे ससुर और मेरी होने वाली पत्नी रेनू ही थी. दिन में हम लोग ज्यादा बात नहीं कर पाए क्योंकि आस पड़ोस के लोग आ गए थे.

रात में मैंने बात करने की बात अपनी पत्नी से कहीं कहीं मैं बात करने के बहाने चुदाई करना चाहता था. यह बात मेरी पत्नी भी समझती थी उसने कुछ जवाब नहीं दिया. दिन में मुझे एक बार मौका मिला तो मैंने उसको कोने में ले जाकर किस कर लिया.

उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसके दवा दीजिए तथा उसकी चूत पर भी हाथ भेज दिया. बोल ना ना करती रही लेकिन मैंने यह सब कर लिया. मेरी बातो से रेनू को अनुमान हो गया था कि मै क्या चाहता हूँ.

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : Mummy Ke Jism Ki Aag Bujhaya Maine

घर में सिर्फ तीन लोग थे मैं रेनू और उसके पिता उसके पिता नींद की गोली लेकर सोते थे. यह बात मुझे रेनू नहीं बताई थी जब सब लोग सो गए तो मैं उठा और मैंने रेनू के कमरे के पास पहुंच गया. कमरे का गेट ऐसे ही अटका था मैंने धीरे से धक्का दिया गेट खुल गया.

मैं अंदर पहुंच गया कमरे में अंधेरा था सिर्फ एक छोटा सा नाइट बल्ब जल रहा था. उसकी रोशनी इतनी कम थी कि कुछ समझ में नहीं आ रहा था. मैं सीधा रेनू के पास जाकर लेट गया और रेनू की पीठ से चिपक कर लेट के रेनू को कमर से पकड़ लिया.

अचानक मुझे देखकर रेनू चौक गई कहने लगी आप कब आये, मैंने कहा अभी आया हूं. कहने लगी कोई देख लेगा मैंने कहा कोई नहीं देखेगा आपके डैडी सो गए. मैंने रेनू के चेस्ट पर अपने हाथ लग दिए और उसके बूब्स दबाने लगा.

उसने मेरा हाथ अलग करते हुए कहा कि यह सब शादी के बाद करेंगे. मैंने कहा कोई चिंता नहीं अब तो हम लोगों की सगाई हो गई है मैं तो सिर्फ आपको छू के देख रहा था. मैंने रेनू के होठों पर अपने होंठ रख दिए और किस करने लगा.

एक हाथ से मैंने रेनू की चूत पर चड्डी के ऊपर से हाथ खेलना शुरू कर दिया. मेरा विरोध करने की हल्की सी कोशिश की लेकिन वह कामयाब नहीं हुई. मैंने रेनू की चड्डी पर हाथ फेरते हुए धीरे से उसकी चूत में उंगली डाल दी.

चुदाई की गरम देसी कहानी : Maa Ki Dono Jangho Ke Beech Baith Kar Lund Ragda

वह मना करती रही लेकिन मैंने चूत में उंगली करना शुरू कर दिया और उसका किसी तरह थोड़ी देर में मैंने रेनू की चड्डी किसका कर उसकी चूत पर अपना पूरा हाथ रख दिया. और दो उंगली उसकी चूत में डालकर उंगली करना शुरू कर दिया.

मुंह से थोड़ी देर में सेक्सी आवाज निकलने लगी मैंने रेनू के बूब्स चाटना शुरू कर दिया. पहले में गाउन के ऊपर से ही बुक्स दबाता रहा फिर मैंने गाउन को ऊपर कर रेनू की ब्रा उतार दी और बुक्स चूसने लगा.

एक तरफी में उसके बूब्ब्स  चूस रहा था दूसरी तरफ में उसकी चूत में उंगली भी कर रहा था. थोड़ी देर में ही रेनू की चूत पानी छोड़ने लगी आप रेनू ही मेरा साथ देने लगी. मैंने उसकी चड्डी उतार दी और उसके चूत चाटने लगा.

थोड़ी ही देर में उसके मुंह से आह आह की आवाज निकलने लगी, मैं समझ गया कि यह चुदाई के लिए तैयार है. धीरे-धीरे करके मैंने उसको बिल्कुल नंगा कर दिया है और खुद भी नंगा हो गया. मैं अपने रूम से सिर्फ बनियान और टॉवल पहन के निकला था.

चड्डी मैंने अपने रूम में ही उतार कर रख दी थी ताकि मौका मिलने पर मैं जल्दी ही अपना लंड बाहर निकालकर रेनू की चुदाई कर सकूं. मैं रेनू के ऊपर लेट गया उसकी टांगे फैलाकर मैंने अपना लंड थूक लगाकर उसकी चूत में डाल दिया.

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : लंड की फोटो देखकर भाभी ने पेलवाने को तुरंत हां कर दिया

मेरा लंड बहुत मोटा था इसलिए रेनू की चूत में आसानी से नहीं जा रहा था. मैंने धीरे धीरे अपना लंड रेनू की चूत में डालना और ऐसे ही लेट करा रेनू कैसी लगी कि मुझे दर्द हो रहा है. थोड़ी देर में ऐसा ही पड़ा रहा फिर मैंने झटके देना शुरू कर दिया और अपनी स्पीड बढ़ा दी.

एक तरफ मेरा लंड चूत मार रहा था तो मेरे हाथ रेनू के बूब्स दबा रहे थे. और मेरे होंठ रेनू के होठों का रस पी रहे थे तीनों काम एक साथ चल रहे थे. 20 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना माल पानी रेनू की चूत के ऊपर ही छोड़ दी है और उसके ऊपर ही लेट गया.

रेनू की सील टूट गई थी इसलिए मेरा लंड चूत से निकले खून के कारण लाल हो गया था. और मेरी टॉवल भी खून से रंग थी उस रात मैंने तीन बार रेनू की चूत मारी और सारी रात मजा किया. सुबह मैंने उसकी गांड मारने की कोशिश की तो कहने लगी आज बहुत काम है कल कर लेना नहीं तो दर्द होगा.

उसकी बात सुनकर मैंने उसको छोड़ दिया मैं 3 दिन तक अपनी ससुराल में रहा. और 3 दिन तक कि मैंने रेनू की अलग-अलग आसन से चुदाई की कभी डॉगी स्टाइल में तो कभी उसके ऊपर लेट कर तो कभी अपने लंड पर बैठा कर चुदाई का मजा लिया.

उसके बाद मैं अपने घर वापस आ गया कुछ कारण से रेनू और मेरी सगाई टूट गई. मैं रेनू को बहुत मिस करता था उसकी मस्त मस्त जवानी मुझे बहुत याद आती थी. और मैं उसकी याद में मुट्ठी मारा करता था.

कुछ साल बाद मेरे एक दोस्त की शादी देशों के साथ पक्की हो गई. मुझे पहले से पता नहीं था जब मैं उसकी शादी में गया तो जयमाला के टाइम मैंने देखा. तो मैं क्यों किया रेनू ने मुझे नहीं देखा लेकिन मैंने उसको देख लिया था.

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : दीदी ने चूत चोदना सिखाया मेरे कुंवारे लंड को

शादी के बाद जब रेनू मेरे दोस्त के घर विदा होकर चली गई तो मैं अपने घर वापस आ गया. मैं नहीं चाहता था कि कोई भी रेनू और मेरे बारे में जाने इसलिए मैंने उससे दूरी बना ली. लेकिन मेरे दोस्त ने 2 दिन बाद फोन कर मुझे बुलाया और कहा कि मेरी गोल्डन नाइट है कुछ बात करना है.

ना चाहते हुए भी मैं उसके घर चला गया मुझे देखकर भी सूख गई लेकिन उसने ऐसा व्यवहार किया कि मानो वह मुझे जानती ही ना हो. मैंने भी ऐसा ही किया मेरा दोस्त शर्मिला गोरा चिकना बिल्ली की आंखों जैसा देखने वाला लो ना था. “Kamsutra Sex Position”

चिकना होने के कारण उसके कई लड़कों के साथ अवैध संबंध हो गए थे कई लड़कों ने उसकी मारी और उसने भी कई लड़कों की गांड मारी थी. इसलिए उसे लड़की के साथ संभोग करने में डर लग रहा था उसको डर था कि कहीं मेरा खड़ा ही नहीं हुआ तो मेरा क्या होगा.

मैंने उसे काफी समझाया बुझाया और कहा डर की वजह से वह लैंड को खड़ा रखने वाले कैप्सूल ले आया और उसने सुहागरात के पहले एक कैप्सूल खा लिया. फिर भी उसका डर कम नहीं होगा तो उसने दारु पी ली दारू के नशे में वह मस्त हो गया और जाकर सीधा अपने पलंग पर सो गया.

उसकी बीवी रेनू उसका इंतजार ही करती रहेगी उसने नाते उससे कोई बात की ना कुछ किया. मेरा दोस्त जो कि पैसा वाला था इसलिए उसने अपने सुहागरात का सारा इंतजाम एक होटल में किया था. रात को सब लोग उसको रूम में छोड़ कर वापस अपने अपने रूम में चले गए सिर्फ मैं ही था.

मेरे पास भी अच्छा मौका था बहुत दिन हो गए थे रेनू की चुदाई किए हुए. इसलिए मैंने जा कर दे सुकून पकड़ लिया और उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. और कहने लगी यह क्या कर रहे हो मैंने कहा कुछ नहीं मेरा दोस्तों कुछ कर नहीं पाएगा यह सब मुझे ही करना पड़ेगा. “Kamsutra Sex Position”

मेनू मेरा विरोध करने लगी तो मैंने कहा मुझे आप की चुदाई हर हाल में करना है पिछली सभी बातें सबको बता दूंगा. मेरी धमकी के बाद रेनू डर गई और मैंने एक एक करके उसके सारे कपड़े उतार डाले. परदेशी को बिल्कुल नंगा कर दिया मैंने भी सुखी पूरे शरीर का चुंबन लिया और उसकी चूत चाटना शुरू कर दिया.

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : बहन की पेंटी में हाथ डालने लगा मैं गरम होकर

थोड़ी देर में उसकी चूत पानी छोड़ने लगी तो मैंने अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और उसके ऊपर लेट कर उसके बूब्स चूसने लगा. धीरे-धीरे मैंने अपने झटके तेज कर दिए 15 मिनट तक रेनू की जमकर चुदाई की मेरा दोस्त बगल में बेखबर होकर सो रहा था.

उसे तो कुछ होश ही नहीं था कि उसकी बीवी के साथ क्या हो रहा है मैंने रात में 5 बार देशों की चुदाई की. और फिर एक बार उसकी गांड भी मारी देसू गांड मारने को तैयार नहीं हो रही थी लेकिन मैंने उसको जबरदस्ती घोड़ी बनाकर उसकी गांड में तेल लगाया.

और अपने लंड पत्ते लगाकर उसकी गांड मार ली रेनू भी खुश थी चुदाई कराके लेकिन उसको डर लग रहा था. मैंने कहा जब तक वह मुझसे चुदाई करवाती रहेगी तब तक मैं किसी को नहीं बताऊंगा. वह इस बात पर तैयार हो गई और मैं अपने दोस्त को दारू पिला देता था और फिर उसकी बीवी की जमकर चुदाई करता था.

दोस्तों आपको ये Kamsutra Sex Position की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………


Leave a Reply