Maa Apni Chut Shant Kar Rahi Thi Mera Naam Lekar 1 – Crazy Sex Story


Maa Apni Chut Shant Kar Rahi Thi Mera Naam Lekar 1

Maa Bete Ki Chudai Ki Kahani नमस्कार मित्रों मेरा नाम रजत सिंह (बदला हुआ ) हैं, मैं यूपी का निवासी हूं मेरी आयु 20 वर्ष है और मेरे लिंग 6.5 इंच बड़ा और 2 इंच मोटा है। दोस्तो ये कोई काल्पनिक कहानी नहीं बल्कि सत्य घटना है जो मेरे साथ और मेरी मां के साथ हुई है मां मेरे लंड कि प्यासी थीं पर उन्होंने कभी जताया नहीं आज इस कहानी में मैं बताऊंगा कैसे मैंने अपनी मां की प्यास बुझाई गोपनीयता रखने के लिए किरदारों के नाम तथा स्थान बदले गए हैं। Maa Apni Chut Shant Kar Rahi Thi Mera Naam Lekar 1.

दोस्तो मैं रजत सिंह अपनी मां वंदना सिंह के साथ यूपी के लखनऊ शहर में रहता हूं मेरे परिवार में मैं मेरी मां और मेरी बहन रहती हैं मेरी बहन इस समय हॉस्टल में हैं और इस वक़्त हम मां बेटे ही घर पर हैं मेरी मां का तलाक हो गया था जब मैं 16 वर्ष का था। मेरी मां की शादी छोटी उम्र में ही हो गई थी तो मेरी मां इस वक़्त 36 साल की गोरे रंग तथा छरहरे बदन की एक खूबसूरत और आकर्षक महिला हैं.

पहले मेरे लिए मेरे मां के मन में कोई गंदे विचार नहीं थे लेकिन एक घटना ने मेरा उनकी तरफ आकर्षण बढ़ा दिया और मुझे पता चला मां भी मेरे लंड कि प्यासी थीं। ये बात मई महीने की है एक दिन जब मैं सो कर उठा तो मुझे बहुत तेज पेशाब लगी, जब मैं बाथरूम की ओर गया मुझे पता चला अंदर मां स्नान कर रही हैं. में वापस जाने को मुड़ा तब मुझे पता नहीं क्या हुआ मैंने सोचा मां को नहाते हुए देखा जाए.

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : College Ki Bindas Ladki Ka Deewana Ho Gaya Main

और मैंने दरवाज़े की एक झिर्री से देखा मां शॉवर के नीचे पूर्णता नग्न खड़ी हैं और अपने स्तनों में साबुन लगा रही है. दोस्तो मैं अपने मां के स्तन देख के मदहोश को गया क्यूंकि उनके स्तन एकदम दूध जैसे सफेद और मक्खन की तरह मुलायम थे. मैंने देखा उनके स्तन हल्के हल्के बाउंस हो रहे थे ये देख के मेरा विशाल लंड पूरे उफ़ान पर आ गया. और फिर मैंने देखा मां अपनी चूत के बाल साफ़ कर रहीं थीं.

जोकि हल्की गुलाबी रंगत लिए हुई थीं ये देख मेरे लंड का दबाव इतना बढ़ गया कि जैसे लग रहा था कभी भी फट जाएगा. फिर मैंने देखा मां दूसरी तरफ घूम गई और मैंने उनके नर्म नर्म कूल्हे देखे मां के चूतड़ एकदम रूई की तरह दिख रहे थे और स्प्रिंग की भांति हिल रहे थे. मैंने सपने में भी नहीं सोचा था मेरी मां इतनी सुन्दर और सेक्सी हैं, दोस्तों मेरी मां का साइज़ 34-30-36 हैं.

आप सोच सकते होंगे मेरी मां कितनी हॉट होंगी। फिर मैंने जल्दी से वहीं मुठ मारी और देखा मां नहा चुकी है और बाहर आ रही हैं. मैं जल्दी से भाग कर ड्रॉइंग रूम में आ गया फिर थोड़ी देर बाद मां आई और उसने कहा जल्दी से नहा धो ले मैं नाश्ता बनाती हूं. दोस्तों अब मेरा नजरिया अपनी मां के प्रति बदल चुका था. फिर मैं नहाने गया और वहां मां के नाम की मुठ मारी.

चुदाई की गरम देसी कहानी : Kunwari Chut Ka Jugad Kiya Chachi Ne Mere Liye

फिर नाश्ता वगेरह करके अपने कमरे में पढ़ने चला गया फिर वहीं कुछ देर बाद सो गया। दोपहर में लगभग 3 बजे मेरी आंखे खुली तो देखा घर में सन्नाटा था मैंने सोचा मां सो गई होंगी जाके खाने को बोलता हूं जैसे में उनके कमरे की तरफ बढ़ा मुझे हल्की हल्की सिसकियों की आवाज़ सुनाई दी जो मां के कमरे से आ रही थी. मेरे आश्चर्य का ठिकाना ना रहा, में दरवाज़े को हल्का खोल के देखा.

मां नंगी अपने बिस्तर में लेटी अपनी चूत में उंगली कर रही हैं. मेरे आश्चर्य का ठिकाना ना रहा जब मां ने मेरा नाम लेना शुरू कर दिया मां मेरा नाम ले के अपनी चूत की गर्मी शांत कर रही थी. धीरे धीरे सुबह का सीन और ये मेरे सीन दिमाग में घूमने लगा और मुझे मां के लिए बुरा महसूस हुआ. क्यूंकि तलाक के बाद मां अकेली थी और किसी तरह अपनी प्यास शांत कर रही थी.

उन्होंने मुझे बताया भी नहीं इस बारे में, में सोच में पड़ गया फिर निश्चय किया अब मैं मां को संभोग सुख दे के रहूंगा और उनकी प्यास बुझाऊंगा। मैंने किसी तरह करके वायग्रा के टैबलेट्स और गर्भनिरधक टैबलेट्स ली जोकि आगे काम आती. अब मैं रात का इंतज़ार करने लगा जब रात हुई में खाना वगेरह खा के मां के बगल लेट गया. आज मेरे दिमाग का शैतान जाग चुका था मैंने सोने का प्रयास किया.

पर वही दृश्य दिमाग में चलने लगते इसी उथल पुथल में रात के 1 बज गए पर मेरी आंखो से नींद कोसों दूर थी. मै यही सोच रहा था कैसे मां से इस बारे में बोलूं तभी मैं पेशाब जाने उठा जब आया तो देखा मां जोकि मैक्सी पहन के सोयी हुईं थीं. उनकी मैक्सी करवट लेने की वजह से घुटनों तक आ गई थी और उनकी गोरी चिकनी मांसल जांघे नाइट बल्ब की रोशनी में चमक रही थी.

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Muslim Bhabhi Ka Nude Show Dekh Kar Pani Nikala

मुझे सुबह वाला दृश्य याद आ गया मैंने धीरे से उनके बगल में लेट गया और अपने हाथों से उनकी जांघो को सहलाने लगा. धीरे धीरे जब मां ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी तो मैंने अपना पैर मां की जांघो पर रख कर रगड़ने लगा. अब मेरा लंड उफ़ान मार रहा था मैंने डरते डरते मां की चूत के पास हांथ ले गया और एकदम हल्के हाथों से सहलाने लगा. मुझे बहुत अच्छा लग रहा था तभी मां ने करवट ली तो में डर गया. “Maa Apni Chut Shant”

पर वो नींद में थी अब वो सपाट पीठ के बल लेटी थी मैंने उनकी चूत सेहलानी जारी रखी और धीरे धीरे उनसे सट गया. फिर मां ने करवट ली और मुझसे चिपक कर सो गई मैंने भी सो जाना उचित समझ और सो गया। सुबह मैं डरा हुआ था कि मां मुझे डांट ना दे पर मां के व्यहवार से साफ लग था था शायद वो ये नहीं जानती. आगामी कुछ दिनों तक मैं यही करता रहा.

पर एक दिन मेरे सब्र ने जवाब से दिया अब मैंने सोच लिया मैं आज मां को चोद कर रहूंगा और उन्हें संतुष्ट कर दूंगा. इसीलिए मैंने खाने के बाद वायग्रा खाया और बिस्तर पर लेटा रहा थोड़ी देर में मां वाह सा गईं. उन्होंने एक डीप कट मैक्सी पहनी थी जिससे उनके क्लीवेज साफ दिख रही थी. जैसे मां अई मैंने उनसे कहा मां मुझे आपसे कुछ बात करनी है.

मां ने कहा बोलो बेटा क्या हुआ मैंने झिझकते हुए कहा मां मै आपको बहुत पसंद करता हूं और आपके साथ सेक्स करना चाहता हूं. ये सुन मां स्तब्ध रह गईं और गुस्से से बोली रजत तू पागल तो नहीं हो गया अपनी मां से ऐसी बातें करते शर्म नहीं आती. मैंने फिर उन्हें कहा मां जब से आपका तलाक हुए हैं मैंने आपको कई बार उदास देखा है. और मैंने आपको कमरे में उंगली से प्यास बुझाते देखा है.

चूत का पानी निकाल देने वाली कहानी : Bhabhi Ek Bar Gaand Chudwalo Please

ये सुनते ही मां के चहरे का रंग उड़ गया फिर वो भावुक होती हुई बोली बेटा जो होना था हो गया. पर हम मां बेटे हैं हम ये सब नहीं कर सकते समाज में पता चला तो हम मुंह दिखाने लायक नहीं बचेंगे. फिर मैंने उनका हाथ अपने हाथ में लेते हुए कहा मां में आपको दुखी नहीं देख सकता मुझे पता हैं आप भी मुझसे सेक्स करना चाहते हो पर बोल नहीं पा रहे. ये बोलते ही मां का चहरा ऐसे हो गया जैसे उनकी चोरी पकड़ी गई हो.

उनकी आंखे झुक गई मैंने उनका चहरा हाथ में लेते हुए कहा मां हम मां बेटे होने से पहले औरत और मर्द है और आपकी भी कुछ ज़रूरतें हैं, और मैं आपको दुखी नहीं देख सकता किसी को कुछ पता नहीं चलेगा. तो मां मुझसे लिपट गईं और कहा बेटा तू मेरा कितना खयाल रखता है और मेरे गाल पे एक किस कर दी. फिर उन्होंने कहा बेटा मैं भी तुझे पसंद करती हूं पर कभी शर्म से बोल ना पाई. “Maa Apni Chut Shant”

और मैंने देखा उनके गाल लाल थे फिर उन्होंने कहा जो तुझे करना है कर मै तेरा साथ दूंगी. और ये बोल के मेरी बाहों से लिपट गईं मैंने फिर बोला मां वादा करो दुबारा कभी उदास नहीं होगी. मां ने हां में सिर हिला दिया फिर मैंने नाइट बल्ब जला दिया और उन्हें बाहों में भर कर उनके होंठ चूमने लगा. मां मेरा पूरा साथ दे रहीं थी और मेरे जीभ अपने मुंह में लेके चूस रहीं थीं.

हमारी लार एक दूसरे के मुंह से मिल रही थी, हम 15 मिनट तक लगातार एक दूसरे के होंठ पीते रहे और लिपलॉक करते रहे फिर दावा का असर शुरू होने लगा. और मैंने तुरंत अपने सारे कपड़े निकाल दिए बस एक चड्डी छोड़ के. फिर मैंने अपनी मां की मैक्सी उतार दी मां ने ब्लैक कलर की ब्रा और मैचिंग पैंटी पहनी थी. फिर मैंने मां को बिस्तर पर धक्का दिया.

और उनकी ब्रा उतार के उनके विशाल 34 की चूचियां अपने हाथ में पकड़ कर दबाने लगा और पीने लगा. मां मदहोश होने लगी और कहने लगी आह बेटा धीरे कर आह और फिर मैंने उनकी चूचियां पीने के बाद नीचे की तरफ आया. और उनकी जांघों को चूमते हुए दांत से खींच कर उनकी पैंटी उतार दी अब मां की हल्की गुलाबी चूत मेरे सामने थी. मैंने नाक लगा के उसकी खुशबू सूंघा और उनकी चूत की फांकों को फैला कर पागलों की तरह चूत चाटने लगा.

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Randi Maa Ko Bhaiya Ka Lauda Chuste Dekha

मैं पूरे ज़ोर से मां की चूत चाट रहा था और मां सिसकारियां भर रही थीं आह्ह बेटा आराम से उफ्फ उई मां आहहह मर गई हाय उम्मा आह और छटपटाने लगी. थोड़ी देर में मां का शरीर अकड़ने लगा और मां की चूत ने पानी छोड़ दिया. मैंने सारा पानी पी लिया और उनकी चूत चाट कर साफ़ कर दी फिर मैंने मां को घुटनों के बल बैठने को कहा और अपना अंडरवियर उतार दिया.

मेरा 6.5 इंच का लंड देख के मां कि हालात ख़राब हो गई वो डर से कहने लगी बेटा ये तो बहुत बड़ा है कैसे जाएगा तेरे पापा का बस 5 इंच था. मैंने कहा मां डरो मत और उनको लंड चूसने को बोला पहले तो मां हिचकिचाई पर. फिर उन्होंने धीरे से लंड का टोपा अपने मुंह में रखा और हल्के हल्के चूसने लगी. फिर मां को मज़ा आने लगा और वो गले तक लंड लेके ज़ोर ज़ोर से किसी रंडी की तरह चूसने लगी.

मेरी सिसकारियां निकालने लगी आह मां आराम से आह वंदना मेरी जान आह धीरे. और फिर मैं मां को मुंह में जोरदार धक्के देने लगा मां के आंसू निकल गए और वो बेदम होके ज़मीन पे गिर कर सांस लेने लगी दावा के असर से मैं अबतक झड़ा नहीं था. वरना ऐसे ब्लोजॉब के बाद बड़े बड़ों का पानी निकाल जाए फिर मैंने मां को उठाया. और हम 69 पोजिशन करने लगे थोड़ी देर बाद मां ने कहा बेटा अब और ना तड़पा बुझा दे. “Maa Apni Chut Shant”

मेरी प्यास अपने इस लौड़े से और लेट गई फिर मैंने मां को मिशनरी पोजिशन में किया उनकी चूत में थूक लगाया. और धीरे से सुपाड़ा मां की चूत पे रखा मां इतने सालों से चुदी नहीं थी तो उनकी चूत थोड़ी टाईट थी. मैंने धीरे से सुपाड़ा दबाया और मां के चेहरे पर दर्द झलक आया फिर मैंने अपना लंड निकाला और रख के एक झटके में आधा उनकी चूत में उतर दिया. मां की चीख निकाल गई आह् आहह मार डाला धीरे कर हरामी और दर्द से करहाने लगी.

आह उफ्फ मार डाला कमीने फिर इस बार मैंने लंड निकाला और झुक के मां के होंठो पे अपने होंठ रखे और कस के एक धक्का मारा. मेरा फौलादी लंड चूत को चीरता हुआ सीधे बच्चेदानी से टकराया मां कसमसाने लगी और चीखना चाहती थीं. पर उनकी चीख दब के रह गई मां की आंखो में आंसू आ गए फिर मैंने थोड़ी देर वैसे ही रहा और मां के बूब्स दबाने लगा. और किस करने लगा फिर धीरे से लंड निकाला.

और एक धक्का मारा अब मां भी ठीक हो गई थी तो मैंने अब घोड़े की स्पीड से चुदाई शुरू कर दी. मैं लगातार दुगुनी गति से धक्के मार रहा था और मां भी अपने चूतड़ उठा उठा कर साथ दे रहीं थी. और मां तेज़ तेज सिसकारियां ले रही थी पूरे कमरे में बिस्तर के चरमराने की आवाज़ और घपाघाप की आवाज़ आ रही थी. अब मैंने मां को काऊगर्ल पोजिशन में किया और मां मेरे लौड़े के ऊपर बैठ कर कूदने लगी.

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : Breakup Ka Ghum Mummy Ne Chudai Karwa Kar Kam Kiya

और मैं उनकी दोनों चूचियों से खेल रहा था फिर लगभग 15 मिनट्स की घमासान चुदाई के बाद जब मुझे लगा मेरा होने वाला है. मैंने तेज़ तेज धक्के लगाने शुरू कर दिए और मां मैं आया बोलते हुए उनकी चूत मैं अपना गर्म गर्म वीर्य भर दिया और निढाल हो गया. फिर मां भी मेरे बगल आके लेट गईं और मेरे सीने से चिपक कर लेटते हुए बोली थैंक्यू बेटा तुमने मेरी प्यास बुझा दी.

और मेरे गाल पर किस कर दिया उनकी आंखो में खुशी के आंसू थे फिर उन्होंने बोला अब मैं तुम्हारी बीवी की तरह हूं. जब चाहो चोद लेना और कस कर गले लग गईं मैंने उनके कूल्हों पर हाथ फेरते हुए कहा मां आई लव यू और जब तक आपका बेटा है आपको कभी दुखी नहीं होने दूंगा. दोस्तो उस रात हमने 4 बार चुदाई की मैंने मां को कई पोजिशंस में चोद और उनको संभोग सुख दिया. “Maa Apni Chut Shant”

अगले भाग में आप जानेंगे कैसे मैंने अपनी बहन को चोदा और कैसे हमने थ्रीसम सेक्स के मज़े उठाए। दोस्तो सच बताऊं तो जो मज़ा अपनी मां के साथ सेक्स करने उनकी चूत चाटने और किस करने में हैं. वो दुनिया की किसी औरत के साथ नहीं, इसीलिए अगर आपके पिता नहीं है या बाहर रहते हैं तो अपनी मां के साथ सेक्स जरूर करें. क्यूंकि जिस मां ने हमें पाला है हम उसके लिए इतना कर सकते हैं और हां आपकी मां आपको निराश नहीं करेंगी. अगला भाग जल्द आएगा तब तक अपने मां की नाम की मुठ मरिए अलविदा।

दोस्तों आपको ये Maa Apni Chut Shant Kar Rahi Thi Mera Naam Lekar 1 कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे……….

Leave a Reply