New XXX Chut Chudai – घर में भाई बहन का पोर्न

[ad_1]

New XXX Chut Chudai

मैं रीमा उम्र पच्चीस साल कद साढ़े पांच फुट रंग गोरा और जवानी से भरा हुआ शरीर ।आपको अपनी पहली चुदाई की कहानी लिखने जा रही हूं जो मेरे और मेरे छोटे भाई के बीच में हुई थी। अब मैं आपको अपने बारे में बता दूं कि हम दो भाई बहन हैं । मैं पोस्टग्रेजुएट हूं और मेरा भाई जिसका नाम संजू है और जिसकी उम्र बीस साल है बह कालेज में पढ़ता है और बहुत ही मासूम और प्यारा है। New XXX Chut Chudai

हमारा डब्लस्टोरी घर गांव से बाहर एक रोड़ साईड में है। मेरे भाई संजू का कमरा मेरे कमरे के साथ दूसरी मंजिल में है और उन कमरों की एक एक छोटी खिड़की हमारे साथ वाले एक फौजी के मकान की तरफ खुलती है । फौजी का नाम रत्न है और उसकी बीवी का नाम रजनी है। मैं और मेरा भाई संजू उन्हें भैय्या और भाभी कहते हैं।

उनके दोनों बेटे कालेज में पढ़ते हैं और होस्टल में रहते हैं। उनके घर में सिर्फ रजनी भाभी और उसकी सास रहती हैं। रजनी भाभी की उम्र कोई पैंतालीस के आसपास है पर भाभी आज भी बहुत सुंदर और सैक्सी दिखती है।उसका कद मुझसे कोई दो इंच लम्बा है । उसके मोटे मोटे स्तन पतली कमर और चौड़ी हिप्स को देख कर आज भी मनचलों के दिल धड़क जाते होंगे। और उसका स्वभाव भी बहुत मज़ाकिया और खुशरहना है।

बात आज से दो साल पहले की है।एक दिन गर्मीयों में शाम पांच बजे मैं अपने और संजू के लिए चाए लेकर जब ऊपर गयी तो मैंने देखा संजू का कमरे का दरवाज़ा बंद था और संजू के कमरे से सिसकारियों की धीमी धीमी आवाज आ रही थी तो मैंने अपने एक हाथ से दरवाजे को थोड़ा सा धक्का लगाया पर दरवाजा अंदर से लॉक था।

फिर मैंने चाय को अपने कमरे में रखा और संजू के कमरे के बाहर जा कर की होल में से अंदर झांकने लगी तो देखा कि संजू पीछे की खिड़की को थोड़ा सा खोल कर चोरी से बाहर झांक रहा था और अपना हाथ अपने लोअर में डाल कर शायद अपने लंड को सहला रहा था। तो मेरे दिल में आया कि देखूं तो सही कि संजू बाहर क्या झांक रहा है.

इसलिए मैंने चुपके से आपने कमरे में आ कर पीछे की खिड़की को आहिस्ता से थोड़ा सा खोला और जब बाहर देखने लगी तो मैं हैरान रह गयी क्योंकि सामने रजनी भाभी अपने आंगन में बने ओपन बाथरूम में नंगी बैठी हुई थी और रेज़र से अपनी चूत के बाल साफ़ कर रही थी। फिर बह अपने ऊपर पानी डाल कर नहाने लगी तो उसके भीगे हुए गोल गोल स्तन , उभरे हुए नितम्ब और गोरा बदन बहुत ही सैक्सी दिखने लगा।

फिर उसने साबुन कि टिकिया उठाई और अपने गोरे बदन पर साबुन लगाया और अपने हाथ अपने सैक्सी जिस्म पर फिराने लगी। तभी मुझे संजू का ख्याल आया और मैं दोबारा उठ कर संजू के कमरे के बाहर चली गई और की होल मैं से अंदर का दृश्य देखकर हैरान रह गयी क्योंकि संजू के मुंह से जोर जोर से सिसकारियां निकल रही थीं उसका लोअर घुटनों तक नीचे था और उसका हाथ तेजी से हिल रहा था ।

मेरी तरफ उसकी पीठ थी इसलिए मुझे सिर्फ उसकी अधनंगी जांघों के सिवा कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था। पर मैं समझ गई कि संजू रजनी भाभी को नंगी देख कर कर अपने लंड को हिला रहा है। तभी मैंने कुछ भी सोचे समझे विना संजू को आवाज़ लगाई कि दरवाजा खोलो और मैं थोड़ा पीछे हट गई ताकि उसे कोई शक न हो जाए।

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : Bhabhi Ka Sexy Diwali Gift Mila Muje

थोड़ी देर जब दरवाजा खुला तो मैंने देखा कि संजू के चेहरे पर पसीना था और उसके चेहरे का रंग उड़ा हुआ था और उसने अपना हाथ अपने लोअर पर अपने तने हुए लंड को छुपाने के लिए रखा हुआ था। तभी वह डरते हुए बोला,”दीदी क्या बात है”।

तो मैंने अपने अपने हाथ से उसके माथे से पसीना पोछते हुए कहा “संजू मैं तुम्हारे लिए चाय लेकर आई थी पर दरवाजा अंदर से बंद था और तुम्हारे कमरे में ले अजीब सी आवाजें आ रही थीं। मुझे लगा कि तुम सो रहे हो और कोई भयानक सपना सपना देख रहे हो और इसीलिए मैंने तुम्हें जगा दिया।” मेरी बात सुन कर संजू के चेहरे से डर खत्म हो गया और उसने आह भर कर कहा,”हां दीदी बहुत ही प्यारा सपना आ रहा था पर अपने मुझे जगा कर बह सपना तोड़ दिया”।

तो मैंने मुस्कुराते हुए उसे चूम लिया और कहा,”इस उम्र में ऐसे सपने तो सभी को आते हैं पर पूरे नहीं होते। तुम दिन में ऐसे सपने देखना बंद करो और अपनी पढ़ाई पर ध्यान दो। और चलो मेरे कमरे कमरे में चाए ठंडी हो रही है”। और हम दोनों मेरे कमरे में बैठ कर चाय पीने लगे तो मैंने उससे पूछा,”संजू सच सच बताना, तुझे ऐसे सपने कब से आ रहे हैं जिस से तेरा लोअर तंबू की तरह उठ जाता है”! “New XXX Chut Chudai”

तो संजू ने शरमाते हुए कहा ,” दीदी यह तो विना सपने के भी कभी कभी उठ जाता है पर आज तो पहली बार बहुत हसीन सपना आ रहा था पर आप ने सारे मज़े पे पानी फेर दिया।पर दीदी क्या आपको भी कभी ऐसा मज़ेदार सपना आया?”।

तो मैंने उसको चिड़ाते हुए कहा ,” हां क्यों नहीं पर तुम्हें तो सपने में कोई नंगी खूबसूरत भूतनी दिखती होगी जिसे देखकर तुम्हें तो मज़ा आता होगा। पर लड़कियों को तो सपने में भूत ही लिखते हैं और जिन्हें नंगा देख कर तो डर ही लग जाता है”। और हम दोनों हंसने लगे। फिर मैंने पूछा,” एक बात सच सच बताओ कि आज तुम सपने में क्या देख रहे थे?

तो संजू उठ कर भागने ऐपल मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने सर पर रख कर कहा कि तुम्हें मेरी कसम सच सच बताओ। तो उसने कहा कि दीदी मुझे आपसे शर्म आ रही है कैसे बताऊं। तो मैंने उसे और अपने पास खींच लिया और कहा कि मेरे सामने अपना खड़ा कर के आते हुए तुम्हें शर्म नहीं आई और अब बात करने में शरमा रहे हो।

तो संजू नजरें झुका कर बताने लगा,” दीदी मैंने देखा कि एक बहुत ही खूबसूरत औरत अपने मकान से बाहर निकली और इधर उधर देखने लगी फिर बह अपने घर में बाहर बने बाथरूम में जाकर उसने अपनी सलवार और पैंटी खोल कर एक तरफ़ टांग दी तो मुझे उसकी गोरी गोरी मोटी जांघें देख कर मज़ा आने लगा फिर उसने बैठ कर अपना कुर्ता और ब्रा भी उतार दी तो मेरे दिल में धक-धक होने लगा।

फिर उस औरत ने जब अपनी टांगें मेरी तरफ करके थोड़ी चौड़ी की तो मुझे उस की नाभि से नीचे काले बाल दिखने लगे। उस औरत ने कहीं से रेज़र उठाया और अपनी टांगों के बीच वाली जगह के बाल साफ़ करने लगी। यह देख कर मेरा हाथ अपने आप मेरे लोअर में चला गया और मैं अपने अंग को सहलाने लगा। “New XXX Chut Chudai”

फिर जब वह अपने गोरे जिस्म पे पानी डाल कर नहाने लगी तो मैंने अपना लोअर घुटनों तक नीचे सरका दिया और अपने तने हुए अंग को हाथ में पकड़ कर हिलाने लगा। मेरी सांस तेज तेज चलने लगी।पर जब उसने अपनी मोटी मोटी गोरी छातियों ,पेट और जांघों पर साबुन लगा कर हाथ फेरना शुरू किया तो मैंने अपने अंग को जोर से पकड़ लिया और मदहोशी में मेरी आंखें बंद हो गयीं मुझे ऐसा लग रहा था कि मेरा अंग उस के अंदर जाकर कर आगे पीछे हो रहा है। तब मुझे बहुत मजा आने लगा था इतने में आप ने आवाज लगाई और मेरा सपना तोड़ दिया”।

उसकी बातें सुनते हुए मेरी नज़रें उसके लोअर पे टिकी हुई थीं जिसमें संजू का लंड दोबारा तन कर खड़ा हो गया था और यह देख कर मेरी पैंटी भी गीली हो गई थी। फिर मैंने संजू से कहा,” भाई मायूस न हो मैं दुआ करती हूं कि तुझे इस से भी प्यारा सपना आए और पूरा भी हो जाए।

पर एक बात बता दे कि तुम लड़के अपने इस अंग को और औरत के उस अंग को यहां तुमने सपने में अंदर डाला था उसे क्या कहते हो” तो संजू बोला,” दीदी हम अपने अंग को लंड और औरत के अंग को चूत कहते हैं पर कुंवारी लड़की के अंग को फुद्दी कहते हैं पर दोनों के पिछवाड़ों को गांड़ कहते हैं और स्तन छोटे हों तो चूंचियां और बड़े हों तो मम्में कहते हैं”।

उस की यह बातें सुनकर मैं ज़ोर ज़ोर से हंसने लगी तो संजू ने कहा कि दीदी हंस क्यों रही हो तो मैंने कहा कि मेरे मासूम भाई की जनरल नॉलेज बहुत अच्छी है। फिर मैंने उस पर नक़ली रोब जमाते हुए कहा कि चल उठ और जा कर पढ़ाई कर। आ गया लंड खड़ा कर के। तब संजू उठा और मेरे एक मम्मे को ज़ोर से दबा कर बोला कि आप के भी तो खड़े हो गए हैं और अपने कमरे में भाग गया और जा कर पढ़ाई करने लगा।

चुदाई की गरम देसी कहानी : Chuddakad Ladki Mera Lund Dekh Kar Chudasi Hui

उसी रोज़ शाम को रजनी भाभी सज-संवर कर हमारे घर पर कुछ मिठाई देने के लिए आई तो उसने बताया कि आज उसके पति रत्न हफ्ते की छुट्टी घर पर आए हैं। रजनी भाभी बहुत खुश लग रही थी। जब मेरी नज़र भाभी से मिली तो मैंने मुस्कुरा कर उसे आंख मारी तो भाभी भी मुझे आंख मारकर हंसती हुई अपने घर को भाग गयी।

उस के जाने के बाद मैं अपने घर काम करते हुए रजनी भाभी के बारे में ही सोचती रही कि आज तो रजनी भाभी की चुदाई ज़रूर होगी इसीलिए यह चूत की झांटों को साफ़ करके चुदवाने की तैयारी कर रही थी। तभी मेरे दिमाग में इनकी चुदाई के मंजर घूमने लगे और मेरी पैंटी फिर गीली होने लगी। “New XXX Chut Chudai”

और मैं अपनी चूत में अपने भाई के लंड की कल्पना करने लगी जिससे मैं बहुत गर्म हो गई और मेरी चूत बहुत ही गीली हो । तभी मैंने बाथरूम में जाकर अपने कपड़े उतार दिए और अपनी फुद्दी पर हाथ फेरते हुए ठंडे पानी से नहाने लगी और अपने जिस्म को साबुन से अच्छी तरह साफ़ किया। और मुझे थोड़ी राहत मिली।

उस रात को हम सब ने मिलकर खाना खाया फिर संजू अपने कमरे में पढ़ने चला गया। मैंने भी बर्तन बगैरा साथ किए और फिर अपने और संजू के लिए दूध के गिलास लेकर कर अपने कमरे में जाने लगी।। मैंने संजू को पीने के लिए दूध का गिलास दिया और फिर अपने कमरे में जाकर किताब लेकर पढ़ने लगी। थोड़ी देर बाद मैंने दूध पिया और लाईट बंद कर के सोने लगी।

तभी मुझे रजनी भाभी का ख्याल आया और मैंने धीरे से खिड़की खोल कर जब उनके घर की तरफ देखा तो हैरान रह गयी। हमारे सामने वाले कमरे की खिड़कियां खुली हुई थीं और लाईट भी जली हुई थी। उस कमरे में रजनी भाभी और रत्न भैय्या अंदर से दरवाजा बंद कर के एक बैड पर बाहों में बाहें डाल कर एक दूसरे को चूम रहे थे। तो मैं समझ गई कि अभी यह चुदाई करने वाले हैं। और मैं आज इनकी चुदाई को जरूर देखूंगी।

फिर मुझे संजू का ख्याल आया और मैं खिड़की बंद करके उठी और अपने कमरे की लाईट जला कर संजू के कमरे में चली गई।तब संजू भी दूध पीकर सोने की तैयारी कर रहा था। मुझे देख कर संजू बोला कि दीदी क्या बात है तो मैंने कहा,”संजू आज मैंने जो तेरा सुंदर सपना तोड़ा था अब तू मेरे कमरे में जल मैं तुझे आज वही पूरा सपना दिखाऊंगी”।

और मैं उसके कमरे की लाईट बंद कर के उसका हाथ पकड़ कर अपने कमरे में ले आई। और उसे अपने बैड पर बैठा दिया। फिर मैंने अपने कमरे का दरवाज़ा अंदर से लॉक कर दिया और अपने कमरे की लाईट बंद करके संजू के पास बैड पर चली गई। मैंने अंधेरे में ही उसे अपनी बाहों में ले कर पहले किस्स किया और फिर पूछा,”क्या सच में तुझे वहीं सपना देखना है” तो संजू बोला ,” हां दीदी पर बह सपना कैसे दिखाओगी.” तो मैंने उठकर धीरे से खिड़की को खोल दिया और कहा कि देख लो अपना सपना। “New XXX Chut Chudai”

जब मैंने भी खिड़की खोली तोमें तो देखा कि रत्न भैय्या रजनी भाभी की पर्पल नाईटी को उठा कर भाभी की नंगी मोटी गांड पर हाथ फेर रहे थे और भाभी से लिपट कर लेटे हुए थे। फिर रजनी भाभी ने करवट बदली तो रत्न भैय्या ने पीछे से अपने हाथ डाल कर उसके दोनों स्तन पकड़ लिए और उनको दबाने लगे और भाभी की गर्दन पे किस करने लगे।

यह सब देख कर मैं वहां से हट गयी।और आकर अपने बैड पर लेट गई। तो संजू ने कहा कि दीदी आप यहां से क्यों चली गईं। तो मैंने कहा कि मुझे नहीं देखना है यह सबकुछ, तुम ही देखो । संजू भी वहां से हट कर मेरे साथ बैड पर आ गया और अपनी छाती के नीचे पिल्लो रखकर पेट के बल लेट उस तरफ गौर से देखने लगा और मैं उसके साथ पीठ के बल ही लेटी हुई थी।

तो संजू बोला कि दीदी देखो तो सही इधर से लेटकर भी सबकुछ साफ़ साफ़ दिख रहा है। पर मैं नहीं मानी तो संजू ने मुझे अपनी कसम दे कर देखने को कहा। तो मैंने उसके कहने पर अपना पिल्लो भी अपनी छाती के नीचे रख लिया और उस तरफ देखने लगी। जब मेरी भी नज़र उन पर पड़ी तो देखा कि रत्न रजनी भाभी कि नाईटी उतार कर भाभी की ब्रा खोल रहा था.

फिर उसने भाभी की पैंटी भी उतार दी और भाभी को पीठ के बल लिटा कर उसके मम्में चूसने लगा और एक हाथ से भाभी की चूत को सहलाने लगा। भाभी की टांगे हमारी तरफ़ थीं इसलिए हमें भाभी की फुली हुई चूत साफ़ दिख रही थी तभी भाभी कसमसाने लगी और अपने हाथ से रत्न भैय्या के अंडरवियर के ऊपर से उसके लंड को सहलाने लगी।

जब उसका लंड खड़ा होने लगा तो भाभी ने रत्न का अंडरवियर उतार कर नंगे लंड को हाथ में पकड़ लिया और उठ कर घुटनों के बल बैठ गई और लंड को हाथ में पकड़ कर हिलाने लगी तभी रत्न का लंड पूरी तरह खड़ा हो गया। भाभी उसे पहले अपनी जीभ से उसे चाटने लगी फिर उसे अपने मुंह में लेकर चूसने लगी और रत्न अपना हाथ बढ़ा कर उसकी मोटी गांड पे फेरने लगा। “New XXX Chut Chudai”

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Meri Gand Ki Darar Me Bhaiya Ka Lund Chubhne Laga

यह देख कर मुझे कुछ होने लगा और मैंने संजू को अपनी ओर खींच कर उसपर अपनी एक टांग रख दी। और उससे लिपट गई। तभी मेरी फुद्दी गीली होने लगी और मेरे मम्मों में भी अकड़न होने लगी। फिर जब रत्न अपना लंड खड़ा करके पीठ के बल लेट गया और भाभी एक तरफ बैठ कर उसके तने हुए लंड को हाथ में पकड़ कर चूसने लगी.

तो मैंने संजू से कहा,”कैसा लगा सपना,अब खुश है अब देख ले तेरी सुंदर भूतनी क्या कर रही है, आया मज़ा?”। तो संजू ने दूसरी तरफ करवट बदली और मेरी तरफ पीठ कर ली और बोला कि मज़ा तो आ रहा है पर क्या करूं मेरा बुरा हाल हो रहा है तो मैंने उसकी पीठ को अपनी छाती से लगा लिया और उसे अपनी बाहों में कस कर उसकी गर्दन और गाल पे किस कर दिया।

फिर मैंने अपना हाथ उसके पेट पर फेरते हुए उस के लोअर पर पहुंचा दिया और लोअर को नीचे सरका कर उसके लंड को पकड़ने लगी तो हाथ लगाते ही डर गयी। संजू का लंड लोहे की तरह सख्त और गर्म तो था और रत्न भैय्या से दुगना लम्बा और मोटा भी लग रहा था। इसलिए मैंने अपना हाथ हटा लिया और संजू को छोड़ कर पीछे हट गई।

तो संजू बोला,” दीदी क्या हुआ। आप दूर क्यों चली गईं? तो मैंने कहा,” अरे तेरा तो बहुत ही लम्बा और मोटा है मुझे इससे डर लग रहा है ” तो संजू बोला ,” इसमें मेरा क्या कसूर है दीदी ,अब यह फूल कर बड़ा हो गया तो मैं क्या करूं।पर इसमें डरने की क्या बात है। पार्न फिल्मों में तो इस से भी बड़े बड़े होते हैं और लड़कियां उन्हें खुशी खुशी अपने अंदर ले लेती है”।

तो मैंने कहा,” तो क्या तुम पार्न फिल्में भी देखते हो?” तो संजू बोला,” कभी कभी देख लेता हूं पर क्या आप ने कभी नहीं देखी?” तो मैंने कहा,” मैने कहा ,” एक दो बार रजनी भाभी से सीडी ला कर देखी तो थी पर देख कर मन बहुत ख़राब हुआ था इसलिए कभी भी पूरी फिल्म नहीं देख पाई पर आज का लाइव शो देख कर तो मन बहुत ही ख़राब हो गया है। “New XXX Chut Chudai”

और समझ में नहीं आता कि क्या करूं। पर उस में तो मर्दों के इतने बड़े बड़े नहीं थे। अभी देखो रत्न का भी तो इतना बड़ा नहीं है और रजनी भाभी कैसे उसे अपने मुंह में लेकर चूस रही है और भाभी भी कितने मज़े से अपने मोटे मोटे मम्में रत्न से चूसवा रही है। क्या तेरा भी मम्पें चूसने को दिल करता है?” तो संजू ने कहा कि करता तो है पर किस के चूसूं।

तो मैंने अपना कुर्ता और ब्रा उतार फैंके और संजू से कहा कि मेरे ही चूस ले। तो संजू ने मेरी तरफ पलट कर मेरी नंगी कमर में हाथ डाल कर मेरे स्तनों को बारी बारी से चूसना शुरू किया तो मैं आहें भरने लगी और मेरी फुद्दी भी गीली होने लगी।

तभी संजू का नंगा लंड मेरी सलवार के ऊपर से मेरी नाभि के नीचे टकराने लगा तो संजू मेरे पेट पे ही अपनी कमर हिला कर छोटे छोटे धक्के लगाने लगा तो उस का सख्त लंड मेरे पेट में चुभने लगा। तो मैंने नीचे हाथ डाल कर अपनी सलवार का नाड़ा खोल दिया और पैंटी को नीचे सरका कर अपनी फुद्दी को नंगा कर दिया और संजू के तने हुए मोटे लंड को अपने हाथ में पकड़ करअपनी फुद्दी पर रगड़ने लगी।

तभी मैंने संजू से पूछा कि अब बस करो मुझे कुछ हो रहा है तो संजू ने कहा कि दीदी बताओ कहां हो रहा है तो मैंने कहा कि मेरी फुद्दी बिल्कुल गीली हो गई है और और आग की भट्टी की तरह तप रही है तो संजू ने कहा,” दीदी अब इसमें आपको लंड ही डालना पड़ेगा।”

तो मैंने कहा कि मैं लंड कहां से लाऊं एक तो तेरा लंड ‌बहुत मोटा है और दूसरा हमारा भाई बहन का रिश्ता है और मैंने आजतक कभी भी ऐसा काम भी नहीं किया, तुम भी तो अभी अनाड़ी हो और आजतक तुने भी किसी फुद्दी नहीं ली होगी.” “New XXX Chut Chudai”

तो संजू बोला, “दीदी आप भी कैसी बातें करती हो । मेरे कितने ही दोस्त हैं जिन से उनकी सगी बहनें चुदवाती हैं एक दोस्त ने तो अपनी बहन को अपने सामने मुझ से चुदवाने के लिए राजी भी कर लिया था पर जब मैं उस अपने दोस्त के सामने उसकी बहन को चोदने लगा तो बह लड़की मेरा लंड झेल नहीं पाई और और मुझे खाली हाथ लौटना पड़ा।

पर मुझे कभी भी किसी लड़की की फुद्दी तो नहीं मिली पर औरतों की चूत दो चार मार चुका हूं” तो मैंने हैरानी से पूछा ,” फिर तूने किस किस औरत को चोदा है,” तो संजू बोला,” दीदी आप को बताते हुए शर्म आती है कि पहली बार तो मैंने अपने दोस्त मुनीश की मम्मी को और फिर सन्नी की भाभी को और फिर अपनी गर्ल फ्रेंड सुनीता की मामी को चोदा है.”

तो मैंने कहा कि बह कैसे तो संजू बोला,” एक बार मैं और मुनीश उनके ही घर में पार्न फिल्म देखते हुए मुठ मार रहे थे तो उसकी मम्मी ने कहीं से हमें देख लिया। दूसरे दिन मुनीश अपने पापा के पास दिल्ली चला गया तो उसकी मम्मी ने मुझे फोन कर के किसी काम के बहाने अपने घर पर बुला लिया और जब मैं उनके घर पहुंचा तो बह सिर्फ ट्रांसपेरेंट नाइटी में थी और मुझसे से लिपट गई।

जब मैंने मना किया तो बह बोली कि उसने मुठ मारते समय मेरा लंड देख लिया था और बह इस मोटे लंड से चुदवाना चाहती है। उस ने मेरी पैंट उतार कर मेरे लंड को चूस चूस कर खड़ा कर दिया और अपनी फूली हुई चूत के अंदर डलवा कर चुदवा। फिर एक बार मैं सन्नी के बुलाने पर उसके घर गया तो संन्नी का कमरा अंदर से बंद था जब मैंने उसे पुकारा तो उसने दरवाज़ा खोलकर मुझे अंदर खींच लिया और दरवाजा फिर से बंद कर लिया उस दिन उनके घर में कोई भी नहीं था।

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Boyfriend Sidha Lund Khada Karke Mujhe Dikha Raha

मैं सन्नी को देख कर हैरान हो गया क्योंकि बह सिर्फ तौलिया लपेटे हुए था और उसका लंड खड़ा था पर जब मैं कमरे के अंदर पहुंचा तो उसकी भाभी सफ़ेद चादर ओढ़ कर उसके बिस्तर पर लेटी हुई थी। तो सन्नी अपनी भाभी से बोला कि भाभी यही है संजू बड़े लंड वाला आज इस से भी चुदवा कर मज़े ले लो। “New XXX Chut Chudai”

और जब सन्नी ने चादर हटाई तो उसकी भाभी बिल्कुल नंगी थी पर उसका रजनी भाभी जैसा गोरा बदन और मोटी गांड देख कर मेरा लंड झट से खड़ा हो गया और उसको देख कर सन्नी की भाभी बहुत खुश हुई और उसने सन्नी के कहने पर घोड़ी बन कर मुझ से चुदवाया।”

फिर मैंने कहा कि तूने मनीषा की मामी को कैसे चोदा तो संजू कहने लगा,” सुनीता और उस की मामी की बहुत दोस्ती है सुनीता के मामा दुबई में हैं । मामी को सैक्स का मन करता था इसलिए बातों ही बातों में उसने सुनीता को बता दिया तो सुनीता ने उसे मेरे बारे में बताया कि संजू का लंड बहुत बड़ा है इसलिए बह आज तक उस से नहीं चुदवा सकती।

तो उसकी मामी ने अपनी प्यासी चूत मुझ से चुदवाने की ख्वाहिश मनीषा से ज़ाहिर की तो बह मान गई और मुझे अपनी मामी को चुदवाने उसके घर ले गयी ।पर उसकी मामी की चूत बहुत लूज़ थी इसलिए मुझे कोई खास मज़ा नहीं आया।

पर जब एक बार मैंने सुनीता से मामी की इतनी लूज़ चूत के बारे में पूछा तो उसने बताया था उसकी मामी ने एक डाबरमैन कुत्ता पाला हुआ है और एक बार जब उसकी मामी कपड़े बदलने लगी थी तो कुत्ते ने मामी की नंगी गांड देख कर मामी की कमर में अपनी अगली टांगें लपेट लिया और सुनीता के सामने ही मामी की गांड़ पर धक्के लगाने लगा।

इसलिए लगता है कि वह अपने कुत्ते से जरूर चुदवाती होगी” उसकी बातें सुनकर मेरी फुद्दी और भी गरम हो गई और मैंने संजू का तना हुआ लंड पकड़ कर कहा,” तो क्या अब तू मुझे भी चोदना चहता है?” तो संजू बोल पड़ा,” दीदी मैं तो आपको कयी दिनों से चोदना चाहता था पर एक तो मैं कहने से डरता था और दूसरा सोचता था कि मेरी प्यारी दीदी मेरा लंड देख कर ही नहीं मानेगी।”

तो मैंने कहा, “पर आज तेरी बातें सुनकर और तेरे साथ सैक्स का लाइव शो देख कर पहली बार चुदवाने का मन कर रहा है पर तेरा लंड ही बहुत मोटा है इस से मेरी फुद्दी फट जायेगी और मुझे बहुत दर्द होगा” तो संजू बोला,” दीदी आप चिंता मत करो । अगर आपका भी झील कर रहा है तो मैं आराम आराम से डालूंगा पर आप थोड़ी हिम्मत रखना सब ठीक-ठाक ही हो जाएगा। “New XXX Chut Chudai”

सिर्फ एक ही बार दर्द होगा फिर आप बेफिक्र हो कर जिस से मर्जी चुदवाते रहना” तो मैं मान गई और हम दोनों पूरै नंगें हो गए।। संजू ने मेरी दोनों टांगों को फैला दिया और फिर अपनी अपनी जीभ से मेरी फुद्दी को चाटने लगा मैं पूरे जोश में आ गई और बोली कि अब जल्दी से अपना लंड मेरी फुद्दी में डाल दो तो संजू ने अपनी एक उंगली मेरी फुद्दी में घुसा दी और आगे पीछे करने लगा मुझे बहुत मजा आने लगा तो उसने दूसरी उंगली भी डाल दी तो मुझे थोड़ी दर्द हुई ।

उसने फिर उंगलियों को अंदर बाहर किया तो मुझे फिर मज़ा आने लगा और मैंने उसका हाथ हटा कर उसका लंड पकड़ कर अपनी गीली फुद्दी के सुराख पर रख कर कहा कि अब धक्का लगा कर इसे अंदर पहुंचा दे तो संजू ने कहा कि लंड बिल्कुल सूखा है इससे फुद्दी छिल जाएगी तो मैंने कहा कि मेरे मुंह के पास ले आ मैं इसे चाट चाट कर गीला कर देती हूं.

फिर मैंने लंड को अपने हाथ में पकड़ कर उस पर ढेर सारा थूक लगाया और अपनी टांगें फैला कर लेट गई। फिर संजू ने मेरी फुद्दी पर लंड सैट करके कहा कि दीदी अब थोड़ी हिम्मत रखना तो मैंने कहा कि कोई बात नहीं तू बस आराम से करना ।तो संजू ने जोर लगाना शुरू किया पर लंड अंदर नहीं घुस सका।

तो मैंने कहा कि अब क्या करें तो संजू बोला कि दीदी आपकी सील तोड़ने के लिए एक जोर का झटका लगाना पड़ेगा। पर इसमें सिर्फ एक बार आपको तेज़ दर्द होगा। फिर सब नार्मल हो जाएगा। आप अपने दांत भींच लेना वरना चीख निकल जाएगी। फिर बह मेरे साथ लिपट कर बहुत प्यार करने लगा और कहने लगा कि बोलो दीदी क्या करना है थोड़ी देर सोचने के बाद मैं मान गई और मैंने उठकर खुली हुई खिड़की बंद करदी और अपने कमरे की लाईट जला दी।

तब मैंने पहली बार संजू के तने हुए लंड को गौर से देखा। संजू का लंड बहुत ही सुन्दर और गोरा था लंड का सुपाड़ा बिल्कुल गुलाबी रंग का था। मैं अपनी अलमारी में से क्रीम की डिब्बी ले कर उसके तने हुए लंड पर अच्छी तरह क्रीम लगाने लगी।

फिर मैंने लेटकर अपनी गोरी टांगें चौड़ी कर दीं और ढेर सारी क्रीम अपनी भूरे बालों वाली फुद्दी के सुराख पर लगा कर कहा कि संजू अब अपने सुंदर लंड को मेरी प्यारी फुद्दी पर रख कर मार दो झटका और अपना पूरा लंड अंदर घुसा कर चोदा। पर संजू ने पहले मेरे सारे बदन को चूमा फिर मेरी फैली हुई टांगों के बीच बैठ कर मेरे चेहरे की तरफ़ देख कर कहा,” दीदी आप इतनी सुन्दर हो कि दिल करता है कि आप को न चोदूं और सिर्फ आप को देख कर ही मुठ मार लिया करूं”। “New XXX Chut Chudai”

पर मैंने कहा कि अब यह मुमकिन नहीं है क्योंकि मैंने आज फैसला कर लिया है कि मैं सिर्फ तुम से चुदवा कर ही रहूंगी। तो मेरी बात सुनकर संजू ने अपने तने हुए लंड का सुपाड़ा पहले मेरी फुद्दी के सुराख पर रख कर उसे रगड़ना शुरू किया तो मुझे मजा आने लगा और मैं गर्म होने लगी ।

थोड़ी देर बाद मैं बहुत उत्तेजित हो गई और मेरे मुंह से सिसकारियां निकलने लगी और फिर मैंने कहा कि संजू अब रहा नहीं जा रहा जल्दी से झटका लगा दो। तब संजू ने मेरी टांगों को थोड़ा ऊपर उठा कर एक जोर का धक्का लगाया तो मैंने अपने दांत भींच लिए और मुझे ऐसा लगा जैसे किसी ने मेरे अंदर कोई खंजर उतार दिया हो और मैं छटपटाने लगी।

तभी संजू ने थोड़ा पीछे हट कर एक धक्का और लगा दिया तो मैं बेसुध हो गई। थोड़ी देर बाद जब मुझे होश आया तो संजू मेरी फुद्दी में अपना लंड फंसा कर बैठा हुआ था और हिल नहीं रहा था तो मैंने अपना हाथ लगा कर चैक किया तो आधे से ज्यादा लंड मेरी फुद्दी में जा चुका था। फिर मैंने अपने आंसू पोंछते हुए कहा कि अब आहिस्ता आहिस्ता करो तो संजू आहिस्ता आहिस्ता लंड आगे पीछे करने लगा।

कुछ देर बाद मेरा दर्द कम हो गया और मुझे अजीब सा मज़ा आने लगा तो मैंने कहा कि अब अपनी स्पीड बढ़ा दो अब मज़ा आने लगा है तो संजू तेज़ तेज़ धक्के लगाने लगा अब मुझे जन्नत का मज़ा आने लगा और मैं भी उसका साथ देने लगी तो संजू ने एक और जोर का धक्का लगाया तो मुझे उसका लंड अन्दर चुभा तो संजू ने मेरी क़मर को कसकर पकड़ के कहा कि दीदी मुबारक हो। “New XXX Chut Chudai”

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : हरामी दोस्त जबरदस्ती पेलने लगा मेरी सेक्सी माँ को

आपकी फुद्दी ने तो मेरा पूरा लंड जड़ तक अपने अंदर ले लिया है। उस की बात सुनकर मैं बहुत खुश हो गई और संजू को अपने ऊपर खींच कर उस के माथे और गालों पे बहुत किस्स करने लगी । फिर संजू मुझे दनादन चोदने लगा और मैं खुश हो कर चुदवाने लगी ।जब मैं अपनी गांड़ उठा उठा कर कहने लगी,” हाय हाय हाय हाय संजू तेरा लंड बड़ा प्यारा है ये मुझे बहुत मज़ा आ रहा है।

और जोर से चोद मुझे आज मेरी फुद्दी की सारी खुजली मिटा दे रहे मेरे भाई आज जिंदगी में पहली बार इतना बड़ा लंड ले रही हूं। हाय मेरे मम्मों को अपने मुंह में ले कर जोर जोर से चूस और धक्के लगा हाय हाय हाय फाड़ दे मेरी फुद्दी को हाथ जल्दी जल्दी कर हाय मैं गयी अरे गयी मुझे कस के पकड़ ले मैं मर रही हूं हाय हाय हाय हाय हाय हाय,,,,,,,,, हाय” और मैंने संजू को अपनी दोनों टांगों में कस लिया.

और थोड़ी देर बाद मेरी पकड़ ढीली होने लगी और मैं लंम्बी सांसें लेते हुए निढाल हो गई और संजू से कहा कि थोड़ी देर ऐसे ही मेरी फुद्दी में अपना लंड डाल कर लेट जाएं। जब मैं शांत हुई तो मैंने कहा कि मैं थक गई हूं । तो संजू ने अपना लंड मेरी फुद्दी में से बाहर निकाल लिया जो पहले से भी ज्यादा बड़ा और सख्त हो गया था।

मैंने उसको अपने हाथ में पकड़ कर कहा कि क्या तेरा नहीं हुआ तो संजू ने कहा दीदी मेरा नहीं हो सका। आप मेरी मुठ मा कर कर दीजिए। अगर मैं आपके अंदर अपना मार गिरा देता तो आप प्रैगनैंट हो जातीं। यह बात सुनकर मुझे संजू पर और भी प्यार आ गया.

और मैंने संजू को पीठ के बल लिटा दिया और उस के लंड के सुपाड़े को अपने मुंह में लेकर अपने हाथ से मुठ मारने लगी। थोड़ी देर बाद उसके लंड ने मेरे मुंह में पिचकारी छोड़ दी और मैंने उसके सारे पानी को पी लिया और चाट चाट कर उसके लंड को साफ़ कर दिया। फिर संजू अपने कमरे में जाकर निरोध का पैकेट ले आया और फिर उस रात हमने तीन बार चुदाई की। “New XXX Chut Chudai”

दोस्तों आपको ये New XXX Chut Chudai की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………….

[ad_2]

Leave a Reply