Sexy School Teacher – बेटे की कामुक टीचर ने चुचिया चूसने दिया मुझे


Sexy School Teacher

ये मेरी जिन्दगी की सच्ची घटना है। हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम शोभित गोयल है। मैं प्रयागराज में रहता हूँ। मेरा कद 6 फ़ीट 7 इंच का है। बचपन से ही मैं बहुत कमीना किस्म का था। आज भी मेरी कमीनापंती वैसी ही है। मेरी उम्र 34 साल है। बचपन में जब से मुझे पता चला है लंड से मूतने के अलावा भी कोई काम किया जाता है मेरा लंड तब से 6 इंच बढ़ा है। Sexy School Teacher

4 इंच के लंड को हमारे यहाँ आम भाषा में लुल्ली कहते है। लंड तो हमारे यहाँ काम से कम 8 इंच का हो। 8 इंच के बड़े लुल्ली को लंड कहते है। मेरा लंड 11.5 इंच का है। मेरा लंड रॉड की तरह कड़ा है। एक बार खड़ा होने के बाद बहुत मुश्किल से ही गिरने का नाम लेता है। दोस्तों मेरा शरीर खंभे की तरह है। मै रोज जिम जाता हूँ जिससे मेरा शरीर बहुत ही सुडौल है।

मै उम्र में भले ही 34 साल का हूँ। लेकिन मै देखने में अभी 25 साल से ज्यादा नहीं लगता। मेरे मुहल्ले की सारी लडकियां लाइन देती है। मै भी भाव खा के अच्छी लड़कियों के साथ सेक्स करता हूँ। मुझे रोज रोज नई नई चूत चोदना बहुत अच्छा लगता है। मेरा लंड अब तक कई लड़कियों को चोद चुका है।

पहले से ज्यादा लडकियां तो मुझ पर अब मरती है। लड़कियों से ज्यादा भांभियां चुदवाना चाहती है। दोस्तों मै अब अपनी कहानी पर आता हूँ। मै एक शादी शुदा मर्द हूँ। मेरी शादी 7 साल पहले हुई थी। मेरी बीबी कुछ खाश अच्छी नहीं है। उसका नाम नैंसी है। मैं अपनी बीबी को रात में कई बार चोदता हूँ।

दोस्तों चेहरा चाहे जैसा हो। लेकिन चूत को चोदने में आनंद उतना ही मिलता है। अभी मेरी शादी को 3 साल ही हुए थे। एक रात चुदाई की दौरान मेरी बीबी प्रेग्नेंट हो गई। जब उसने टेस्ट करवाया तो वो प्रैग्नेंट थी। आखिरकार उसने एक मॉडल निकाल ही दिया। अब वो मॉडल (बच्चा) 4 साल का हो गया है। पास के ही एक स्कूल में मैंने उसका एडमिशन करवाया है।

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : पति संतुष्ट नहीं कर पाया तो भाभी ने मुझे मौका दिया चोदने का

मेरा राम नगर में ही मेडिसिन की एजेंसी है। एक दिन मेरे घर का नौकर नहीं आया था। मेरी बीबी की भी तबियत खराब थी। उस दिन बच्चे को लाने स्कूल जाना था। मेरे बच्चे का नाम प्रीतम है। मैं उसके स्कूल के गेट से अंदर घुसा। मैंने अंदर जाकर एक मैडम को देखा जो मेरे बच्चे को लेकर आ रही थी।

मैडम के बाल बिखरे हुए थे। मैडम अपनी बालों को संभाल रही थी। मेरा तो बचपन से ही यही हाल था। किसी खूबसूरत लड़की को देखते ही मेरे लंड का खड़ा हो जाना। मेरा बच्चा मुझे देखते ही मेरी तरफ डैडी डैडी बोलते हुए मेरी तरफ दौड़ने लगा। मैडम मेरे बच्चे को प्रीतम संभल के बोलते हुए उसके पीछे तेजी से चलने लगी।

मैडम की उछलते बूब्स को देखकर मेरा लंड कड़ा हो गया। मुझे मैडम की चलने की स्टाइल दुपट्टे को सँभालने की अदा मेरे दिल को भा गई। मेरा मन मैडम को चोदने को मचलने लगा। मैडम मेरे पास आकर बोली- आपका बच्चा बहुत ही शरारती है। जब तक स्कूल में रहता है। कुछ ना कुछ शरारत करता रहता है।

मैंने मन ही मन कहा बिल्कुल बाप पर ही गया है। मैंने प्रीतम को बाय बोलने को कहा। प्रीतम बाय बोला ही था कि मैडम झुक कर प्रीतम को किस करने लगी। मैडम के झुकने पर उनके दोनों चुच्चे साफ़ साफ़ दिखने लगे। मेरे लंड पर प्रेशर बढ़ता ही जा रहा था। मैने तुरंत घर पर आते ही बीबी की जबरदस्त चुदाई मैडम को याद कर करके कर दी।

मैंने बच्चे से मैडम का नाम पूंछा। उसने मैडम का नाम समीरा बताया। अब मैं हर रोज अपने बच्चे को लेने जाने लगा। जिस दिन समीरा बच्चे के साथ नहीं आती उस दिन मैं अंदर जाकर मिल आता था। मैंने समीरा से उनका नंबर मांग लिया। पहले तो हिचकिचाई लेकिन बाद में नंबर दे ही दिया।

अब मैं अपने बच्चे को स्कूल लेने नहीं जाता था। फ़ोन से ही समीरा से बात करके अपने बच्चे की पढाई लिखाई के बारे में पूंछता था। धीऱे धीऱे मेरी फ़ोन पर बात समीरा से बढ़ने लगी। हम एक दूसरे से अपनी अच्छी बुरी बात बताने लगे। मैंने समीरा को कई बार होटल भी ले गया।

चुदाई की गरम देसी कहानी : 3 Lund Ka Swad Ek Sath Chakha Hotel Me

समीरा की अभी शादी नहीं हुई। एक दिन मेरी बीबी मायके चली गई। प्रीतम को भी साथ ले गई। मैंने समीरा के पास फ़ोन किया। समीरा खूब ढेर सारा मेक अप करके मेरे घर पर आ गई। समीरा की आँखों का काजल बहुत ही अच्छा लगा रहा था। उसने अपने मुँह को ब्लश करके लाल लाल कर लिया था।

समीरा बहुत ही मस्त माल लग रही थी। समीरा अपनी लंबी लंबी नाखूनों पर लाल रंग की नेलपॉलिश लगा रखी थी। समीरा अपनी कमर मटकाते किये ऊंची हील की सैंडल पहन कर मेरे घर में घुस आई। मैंने नौकर को बाहर भेज दिया। मैंने समीरा को अंदर अपने रूम में ले गया। समीरा भी अभी तक कुवांरी थी।

उसका भी मन चुदने को कर रहा था। फ़ोन पर वो बार बार मुझसे कुछ ऐसे ही बात करती थी। मैं समझ गया मैडम को भी अपनी योनि की खुजली शांत करनी हैं। समीरा उस दिन ब्लू कलर का शूट पहने थी। समीरा उस दिन देखने में बहुत ही आकर्षक लग रही थी। समीरा बताने लगी- प्रीतम बड़ा शरारती है। कभी कभी वो मेरे बूब्स को दबा देता है।

पूछता है मैडम आपका ये बड़ा क्यों है। एक दिन तो पीने के लिए जिद कर रहा था। मैने कहा तो पिला देना चाहिए था। समीरा मैडम हंसने लगी। समीरा के पास जाकर मैं चिपक कर बैठ गया। मैंने समीरा की कमर को अपनी बांहों में जकड़ कर कहा। अपना दूध प्रीतम के पापा को भी पिलाओगी। “Sexy School Teacher”

समीरा ने धत्त…तुम इतने बड़े हो गये हो कब दूध की तुम्हे जरूरत नहीं है। समीरा ने शरमाते हुए कहा। मैंने समीरा के शरमाते चेहरे को ऊपर करके किस किया। समीरा ने भी तुरंत रिप्लाई दे दिया। समीरा ने बता दिया की रास्ता साफ है।

मैंने समीरा की आँखों में चुदवाने की झलक देखी। समीरा को मैंने कस के पकड़ लिया। मैंने समीरा के हाथों को सहलाते हुए। उसकी होंठ पर होंठ रख दिया। समीरा ने अपनी आँख बन्द कर ली। समीरा ने अपने होंठो पर गुलाबी रंग की लिपस्टिक लगाई थी। मैंने उसके गुलाबी होंठ को चूमकर चूंसने लगा।

समीरा भी आंख बन्द किये हुए मेरा साथ दे रही थी। समीरा भी मेरे होंठ को अपने होंठ से चूस रही थी। हम दोनों एक दूसरे के होंठ चूसने में लगें थे। समीरा के होंठ चूसने के अंदाज से लग रहा था बहुत दिनों से चुदाई की प्यासी है। मैं समीरा की जीभ को भी चूंसने लगा। समीरा भी अपना जीभ निकाल कर चुसवा रही थी।

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Shikha Madam Ka Youvan Aakarshan Aag Lagane Laga

मैंने अपना एक हाथ समीरा की बूब्स पर रख दिया। समीरा ने अपनी आँखे खोल कर मेरी तरफ देखने लगी। मैंने समीरा से कहा- बच्चे को न सही पर उसके बाप को तो दूध पिला दो!! समीरा मुस्कुराई लेकिन कुछ नहीं बोली। मैंने फिर से समीरा की दोनो चूंचियो को अपने हाथ में ले लिया। काफी बड़े बड़े बूब्स थे।

मैं अपने हाथों में लेकर बाल की तरह उछाल उछाल कर खेलने लगा। मैंने समीरा को अपने टांगो के बीच में बैठाकर उसकी दोनों मम्मो को मसलने लगा। समीरा अपना चेहरा ऊपर कर ली। मैंने साथ ही साथ उसकी होंठ भी चूसने लगा। समीरा की चूंची बहुत ही मुलायम थी।

दबाने पर एकदम रुई की गेंद की तरह लगती थी। मुझे उसकी चूंचियों को मसलने में बहुत मजा आ रहा था। उसकी चूंची को मैंने खूब दबाया। इतनी मुलायम और सॉफ्ट बूब्स को देखने को मैं बेकरार हो रहा था। इतने में मैंने समीरा को खड़ी करके। मैंने समीरा का कुर्ता निकाल दिया। समीरा ब्रा में बिल्कुल मॉडल लग रही थी। “Sexy School Teacher”

मैंने समीरा को उठा लिया। समीरा ने उस दिन लाल रंग की ब्रा पहनी हुई थी। समीरा की टाइट ब्रा में उसकी बूब्स कसी हुई थी। उसकी बूब्स आजाद होने चाहती थी। समीरा को ब्रा में देखकर मेरा लंड आपे से बाहर हो रहा था। मैंने समीरा की समीरा ने अपने बिखरे बालों को झटकते हुए ऊपर किया। अब उसकी ब्रा सहित मम्मे साफ़ साफ़ दिख रहे थे।

मैंने उसकी बूब्स को अपने हाथों में लेकर जोर से दबाने लगा। समीरा की सिसकारी निकल गई। समीरा- सी… सी…..सी….ई….ई. …ई…. ई…इस्स्स…इस्स्स…इस्स्स!!! करने लगी। मैंने समीरा की ब्रा की हुक पीछे से खोलकर उसकी मम्मो को आजाद कर दिया। उसकी गोरी गोरी चूंची पर काले रंग के निप्पल अतिसुन्दर लग रहे थे।

मैंने एक पल भी व्यर्थ न करते हुए। उसकी चूंचियो को पकड़ कर निप्पल को अपने मुँह में भर लिया। समीरा कहने लगी- बेटा तो किसी तरह मान भी गया था। लेकिन उसका बाप तो आज दूध पी कर छोड़ेगा। मैंने उसके निप्पलों को अपने बच्चे की तरह पीना शुरू किया।

मुझे वो अपने चुच्चों में दबा रही थी। उसकी चुच्चो को मैं काट काट कर पी रहा था। उसका निप्पल काटते ही वो ….सी…. सी….सी…. सी…… करने लगती। मैने उसकी दोनों चूंचियो को बार बार काट काट कर पी रहा था। समीरा सिसकारियां भरती रहती थी। समीरा बहुत ही गर्म हो चुकी थी। वो जल्द से जल्द मेरा लंड खाना चाहती थी। “Sexy School Teacher”

मै भी चोदने में काफी माहिर था। मैं समीरा को खूब तड़पा कर चोदना चाहता था। समीरा की चूंची गरम होकर टाइट हो गई। मैंने समीरा की निप्पल को मुह से निकाला। मैंने उसे फिर से खडा किया। नाड़ा खोल दिया। समीरा का सलवार नीचे सरक गया। समीरा अब पैंटी में मेरे सामने खड़ी थी। समीरा को मैं ऊपर से नीचे तक ताड़ रहा था।

समीरा मुझसे शरमा रही थी। अपनी चूत पर हाथ रखे हुई थी। मैंने उसका हाथ हटाया। मै कहने लगा मुझसे क्या शरमाना। मैंने उसकी पैंटी को निकाल दिया। बाप रे उसकी चूत बहुत ही गोरी थी। उसकी चूत के किनारे उगे हुए छोटे छोटे बाल बहुत ही अच्छे लग रहे थे। उसकी चूत अभी पूरी तरह से बालों से नहीं भरी थी।

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Cousin Bahan Gand Marwane Ko Taiyar Ho Gai

मैंने बैठकर समीरा की चूत को अपनी जीभ लगाकर चाटने लगा। समीरा मेरा सर अपनी चूत में चिपका रही थी। मैंने समीरा की चूत की दोनों पंखुड़ियों को चाट चाट कर चूस रहा था। समीरा सी…सी….इस्स्स….. इस्सस्स …इस्स्स…. उफ्फ…..उफ्फ्फ कर रही थी।

मैंने समीरा की चूत की भीतरी हिस्से में अपनी जीभ घुमा घुमा कर चाट रहा था। समीरा ने अपनी चूत गीली कर चुकी थी। मैं उसकी गीली चूत का सारा माल चाट गया। मै अपनी जीभ अंदर बाहर डाल डाल कर समीरा की चूत चाट रह था। मैंने समीरा की चूत से अपनी जीभ निकाली। अपने पैंट का हुक खोल दिया।

पैंट के साथ ही मैंने कच्छा भी निकाल दिया। समीरा मेरे बड़े मोटे लंड को बड़ी हैरानी से देख रही थी। समीरा कहने लगी इस लंड से तुम चुदाई करते हो या खुदाई। मैंने कहा वो तो अभी पता चलेगा। समीरा बोली- न बाबा न इतने बड़े लंड से मुझे अपनी चूत नहीं फड़वानी। मैंने कहा पहले चूसो तो मेरा लंड। “Sexy School Teacher”

समीरा मेरे लंड को धीऱे धीऱे सहलाने लगी। मेरा लंड समीरा के छूते ही और बड़ा हो गया। समीरा मेरे पूरे लंड पर हाथ घुमा रही थी। मैंने समीरा की मुँह में अपना लंड रख दिया। समीरा मेरे लंड को चूंसने लगी। कुछ देर तक चूंसने के बाद। मैंने समीरा को पास में ही रखे तेल को दिया।

समीरा मेरे लंड पर तेल लगाकर मालिश करने लगी। मैंने अपने लंड को तेल से नहला दिया। समीरा को मैंने लिटाकर। उसकी दोनों टाँगे खोल दी। समीरा मेरे लंड से डर रही थी। मैंने समीरा की चूत में रॉड जैसे गरम लंड को रगड़ रहा था। समीरा बहुत ही गरम हो चुकी थी। मैंने समीरा की चूत में अपने लंड को जोर से धकेल दिया। मेरा लगभग 4 इंच लंड समीरा की चूत में घुस गया।

समीरा जोर जोर से चिल्लाने लगी। समीरा- “—-आआआआअह्हह्हह…..अई…..अई….ईईईईईईई मर गयी…मर गयी….मर गयी….मैं तो आजजजजज!!”। मैंने बिना एक पल बिताए दूसरी बार भी धक्का मार दिया। समीरा और जोर जोर से चिल्ला चिल्ला कर रोने लगी। दर्द से वो छटपटाने लगी। कहने लगी- मेरी चूत फट गई। मैंने कहा कुछ नहीं हुआ है।

मैंने चुदाई रोक के उसे किस करने लगा। समीरा की को कुछ ही देर में आराम होने लगा। मैंने धीऱे धीऱे से उसकी चुदाई शुरू कर दी। समीरा को भी अब हल्के हल्के दर्द में मजा आता देखकर। मैंने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी। समीरा- “…उंह उंह उंह हूँ…हूँ….हूँ…हमममम अहह्ह् ह्हह….अई…अई….अई….” बोल बोल के चुदवा रही थी।

मैंने समीरा की चूत में अपने मोटे बड़े लौड़े को पूरा अंदर बाहर कर रहा था। समीरा को भी बहुत मजा आ रहा था। मुझे बहुत दिनों बाद इतनी टाइट चूत चोद के बहुत मजा आ रहा था। मैं उसकी चूत को जल्दी जल्दी चोद रहा था। समीरा भी अपनी कमर को लपा लप उठा के चुदवा रही थी। “Sexy School Teacher”

मैंने समीरा की टांग उठाकर खूब जोर जोर से उसकी चूत में लंड पेलने लगा। समीरा की चीखे निकल गई। समीरा “अई….अई…अई.. अहह्ह्ह्हह….सी सी सी सी….हा हा हा….” करके चीखने लगी। समीरा की चूत की नाली में पानी आ गया। मेरे लंड को भिगा दिया। मैंने समीरा को बिस्तर से नीचे उतारा। मै लेट गया।

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : Lund Chat Chat Kar Chudwati Hun Main

समीरा को अपने लंड की सवारी कराने लगा। समीरा भी मेरे लंड पर अपना चूत रखकर बैठ गई। मैंने समीरा की गांड पर हाथ मार मार कर समीरा को जोर जोर से चुदवाने को उत्तेजित कर रहा था। समीरा जोर जोर जोर से ऊपर नीचे होकर चुदवा रही थी। मैंने उठकर समीरा को झुकाकर उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया।

समीरा की चूत में मेरा लंड उछल उछल कर चोद रहा था। मैंने समीरा को गोद में लेकर उठा उठा कर चोद रहा था। मैंने समीरा की गांड में अपना लंड डालने लगा। समीरा जोर से चिल्लाई। उसने मुझसे दूर होकर कहा मुझे आज गांड नहीं फड़वानी। उसने मना कर दिया। मुझे बहुत गुस्सा आया। लेकिन उसे फिर से किसी दिन चोदना था। इसीलिए मैं मान गया। उसकी गांड का सारा गुस्सा उसकी चूत पर निकालने लगा। उसकी चूत का भरता तो लगा ही चुका था। अब मैं उसकी चूत की चटनी बनाने लगा। मैं जोर जोर से अपने लंड को लंड की जड़ तक डालने लगा।

बार बार “…..मम्मी….मम्मी……. सी सी सी सी….हा हा हा ….ऊऊऊ ….ऊँ…ऊँ….ऊँ… उनहूँ उनहूँ…” चीख रही थी। मैं भी झड़ने वाला हो गया। मैंने अपने लंड को समीरा की चूत से निकाल कर। उसके मुँह के सामने मुठ मारने लगा। मैंने अपना सारा माल चिल्लाते हुए। समीरा की मुँह में गिरा दिया। समीरा मेरे लंड का सारा रस पी गई। हम दोनों लेट गए। कुछ देर बाद दोनों बॉथरूम में नहाये और खूब मस्ती की। अभी तक मैंने समीरा को एक ही बार चोद पाया हूं। लेकिन जब भी मैं दूसरी बार समीरा को चोद कर उसकी गांड मारूंगा। तो वो कहानी भी लिखूंगा।

दोस्तों आपको ये Sexy School Teacher की कहानी आपको मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे…………………


Leave a Reply